शरीर, मन और आत्मा को नियंत्रित करता है योग’

0
Yoga controls the body, mind and soul

सांसद दुग्गल, डिप्टी सीएम व बिजली मंत्री ने भी किया योग

  • राजकीय महिला महाविद्यालय में ऑनलाइन योग प्रोटोकॉल कार्यक्रम आयोजित
सच कहूँ/सुनील वर्मा सरसा। रविवार को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर राजकीय महिला महाविद्यालय में ऑनलाइन योग प्रोटोकॉल कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसके अलावा सांसद सुनीता दुग्गल, डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला व बिजली मंंत्री रणजीत सिंह अनेक नेताओं ने अपने-अपने आवास पर योग किया और लोगों का जीवन में योग को शामिल करने का आह्वान किया। उपायुक्त रमेशचंद्र बिढान ने कार्यक्रम का शुभारंभ भारत माता के चित्र के सम्मुख दीप प्रज्जवलित करके किया। उपायुक्त ने कहा कि कोरोना महामारी के चलते प्रदेश सरकार द्वारा इस बार अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को ऑनलाइन मनाने का निर्णय लिया गया है ताकि लोग अपने घरों में रहकर ही योग करें और स्वस्थ रहें। इस दौरान जिला आयुर्वेदिक अधिकारी डॉ. गिरीश चौधरी, प्रिंसिपल तेजाराम, भारत स्वाभिमान ट्रस्ट से जिलाध्यक्ष चंद्रपाल योगी, पतंजलि योग समिति से बहन इंद्रावती, जयप्रकाश, आयुर्वेदिक चिकित्सा अधिकारी डॉ. उमेश सहगल, डॉ. गंगा विष्णु आदि मौजूद थे।
कोरोना महामारी से बचाव का अचूक उपाय है योग: दुष्यंत चौटाला
प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि योग संपूर्ण मानवता को भारत की ओर से अमूल्य उपहार है। योग स्वस्थ जीवन तथा मन और शरीर के बीच के सही संतुलन की कुंजी है। उपमुख्यमंत्री ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर रविवार को स्थानीय बरनाला रोड स्थित अपने आवास पर ऑनलाइन योग प्रोटोकॉल के तहत योगाभ्यास कर आमजन को अपने घरों में रहकर ही योग अपनाने का संदेश दिया।
योग को बनाएं अपने जीवन शैली का हिस्सा: रणजीत सिंह
बिजली मंत्री रणजीत सिंह ने कहा कि भारतीय संस्कृति में योग का विशेष महत्व है। यह मानव को सशक्त, शांत और ओजस्वी बनाता है। योग रूपी इस महान धरोहर को पूरी दुनिया ने उत्तम स्वास्थ्य व मन को एकाग्र करने के लिए अपनाया है। वे रविवार को अपने आवास पर योग अभ्यास करते हुए बोल रहे थे। उन्होंने सभी प्रदेशवासियों को छठे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की शुभकामनाएं देते हुए योग को अपने जीवन शैली का हिस्सा बनाने को कहा।
योग भारत की प्राचीन परंपरा का अनमोल उपहार: दुग्गल
सरसा लोकसभा सांसद सुनीता दुग्गल ने कहा कि योग भारत की प्राचीन पद्घति है, जो हमारे लिए अनमोल उपहार है। योग के महत्व को आज पूरे विश्व ने समझा है। हर वर्ष 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में सार्वजनिक तौर पर मनाया जाता है। कोरोना बीमारी से बचाव के मद्देनजर सरकार द्वारा इस बार घर पर परिवार के साथ योग थीम के साथ योग दिवस मनाने का निर्णय लिया गया। वे रविवार को छठे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर अपने आवास पर योगाभ्यास कर आमजन को योग को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाने का संदेश दिया।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।