चिंताजनक : 15 जिलों में 60 फीसदी से नीचे है ठीक होने वाले मरीजों का आंकड़ा

0
Worrying less than 60 percent of patients recovering in 15 districts

कोविड-19 : रिकवरी रेट में पिछड़ रहा हरियाणा

  •  8 जिले 50 फीसदी से भी कम तो 7 जिलों की हालत बुरी
सच कहूँ/अश्वनी चावला चंडीगढ़। कोविड-19 में मरीजों के ठीक होने की दर के लिहाज से जहां देश के कई राज्य शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं इस मामले में हरियाणा काफी पीछे नजर आ रहा है। हरियाणा में दिन प्रतिदिन रिकवरी रेट नीचे जा रहा है। जहां प्रदेश भर का रिकवरी रेट गिरते हुए 44 फीसदी पर आ गया। प्रदेश में कुछ जिले ऐसे भी हैं, जो कि रिकवरी रेट में फिसड्डी नजर आ रहे हैं। ऐसे जिलों में रेवाड़ी और चरखी दादरी के साथ-साथ फरीदाबाद भी शुमार है, जहां पर रिकवरी रेट बेहद कम है।
कोविड-19 के मामलों में रिकवरी रेट कम होने के चलते प्रदेश की स्वास्थ्य सेवाओं पर भी सवाल उठने शुरू हो गए हैं। क्योंकि जहां रिकवरी रेट सर्वाधिक है, उसे स्वास्थ्य सेवाओं के लिहाज से बेहतरीन माना जा रहा है। ऐसा हरियाणा में अभी दिखाई नहीं दे रहा है। हालांकि शुरूआत के दिनों में हरियाणा ने काफी अच्छा काम करते हुए रिकवरी रेट में अपनी बादशाहत कायम की हुई थी। लेकिन मई के अंत के बाद लगातार हरियाणा के रिकवरी रेट में गिरावट ही दर्ज की जा रही है और शायद ही कोई ऐसा दिन आया होगा, जिस दिन रिकवरी रेट में कुछ फीसदी उछाल दर्ज किया गया हो। रिकवरी रेट के मामले में प्रदेश को 15 जिले काफी ज्यादा नुकसान पहुंचा रहे हैं, जहां पर 60 फीसदी से कम रिकवरी दर है। जबकि मात्र 7 ही ऐसे जिले हैं, जहां पर रिकवरी रेट 60 फीसदी से ज्यादा दर्ज किया जा रहा है। चिंताजनक पहलू ये भी है कि इस सूची में 8 जिले ऐसे भी हैं, जिनकी रिकवरी रेट 50 से कम दर्ज की जा रही है। प्रदेश में इस समय रेवाड़ी में सबसे कम रिकवरी रेट दर्ज कियाजा रहा है। रेवाड़ी में आए कोविड-19 के 123 केस में से मात्र 12 लोग ही ठीक हो कर घर पहुंचे हैं, जबकि 111 का अभी भी हस्पताल में इलाज चल रहा है, जिस कारण मात्र 10 फीसदी ही रिकवरी रेट इस जिले में दर्ज किया जा रहा है।
गुरुग्राम कोविड-19 से ग्रस्त, पर रिकवरी रेट भी अच्छा
प्रदेश को सबसे ज्यादा परेशानी में डालने वाला गुरुग्राम ही है, जहां पर कोविड-19 के सबसे ज्यादा आने के कारण हॉट स्पॉट बना हुआ है। वहीं रिकवरी के मामले में भी अब गुरुग्राम के स्वास्थ्य कर्मियों की मेहनत रंग ला रही है। गुरुग्राम में 50 फीसदी से ज्यादा रिकवरी रेट है। जबकि उसका पड़ोसी जिला फरीदाबाद काफी नीचे है, जहां मात्र 24 फीसदी रिकवरी रेट दर्ज किया जा रहा है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।