मुख्यमंत्री घोषणा में करोड़ों के काम अटके

0
Work on crores stuck in Chief Minister declaration

ठेकेदारों को पेमेंट न मिलने से आ रही परेशानी (Work Stuck)

नारायणगढ़ (सच कहूँ/सुरजीत)। नगरपालिका नारायणगढ़ में लगे मुख्यमंत्री घोषणा के तहत करोड़ों के कामों का भुगतान नहीं हो रहा, क्योंकि फंड में पैसा ही नहीं है। कुछ ही ठेकेदारों की थोड़ा बहुत भुगतान हुआ और बहुत से कार्य तो टेंडर खुलने के बाद से ही पैसे की वजह से शुरू ही नहीं हो पाये और जो हुए उनका भुगतान नहीं हो रहा। जिसकी वजह से ठेकेदार परेशान हैं। उन्होंने अपने पास से पैसे लगा तो दिए पर कोरोना काल में भुगतान न होने के कारण उनकी मुश्किलें बढ़ गई हैं। ऐसे में नगरपालिका नारायणगढ़ भी संदेह के घेरे में आती है कि जब फंड में पैसा ही नहीं था तो इतने टेंडर क्यों लगाये गए। ठेकेदारों को वर्क ऑर्डर क्यों दिए गए।

वर्ष 2019 में लगे थे निर्माण कार्य के टेंडर

दरअसल वर्ष 2019 के अन्त में कुछ निर्माण कार्यों के टेंडर निकाले थे, जोकि मुख्यमंत्री घोषणा के तहत थे। इन कार्यों के वर्क ऑर्डर 28 जनवरी 2020 को ठेकेदारों को दिए गए थे। ठेकेदारों ने ये कार्य कर दिए थे, लेकिन कोरोना काल के कारण मुख्यमंत्री घोषणा के कार्यों के लिए फंड न होने के कारण अधिकतर ठेकेदारों की आज तक पेमेंट नहीं हो सकी है। 25 अगस्त 2020 को एक पत्र नगरपालिका द्वारा हैड ऑफिस को फंड जारी करने बारे लिखकर भेजा था, लेकिन कोई लाभ नहीं हुआ।

खाली जा रहे टैंडर

पेमेंट न होने के चलते आज नगरपालिका में बहुत से टेंडर खाली चले जाते हैं, क्योंकि ठेकेदार पेमेंट को लेकर सांसत में पड़े रहते हैं कि पता नहीं कि पेमेंट होगी या नहीं। इसलिए सरकार को इस समस्या का जल्द से जल्द हल करना चाहिए।

क्या कहते हैं नगरपालिका सचिव

नगरपालिका सचिव गुलशन कुमार ने कहा कि नारायणगढ़ नगरपालिका के फंड में मुख्यमंत्री अनाउसमेंट की राशि समाप्त हो गई थी, इसलिए हैड ऑफिस में फंड भेजने को पत्र लिखा था। फंड आने में देरी हो रही है, लेकिन जल्द फंड आ जाएगा तथा तमाम पेमेंट कर दी जाएगी।

सरकार से मांग कर जल्द करवाई जाएगी पेमेंट : शैली चौधरी

नारायणगढ़ की विधायक शैली चौधरी ने बताया कि ठेकेदारों की पेमेंट न होना एक गंभीर समस्या है। बगैर पेमेंट के वे आगे कार्य कैसे कर सकेंगे? वे सरकार के समक्ष इस मांग को रखेंगी एवं विभाग को भी जल्द पेमेंट करने बारे पत्र लिखेंगी। उनका प्रयास रहेगा कि जल्द से जल्द ठेकेदारों की पेमेंट हो सके।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।