Breaking News

वुमन्स WC: भारत के सामने ऑस्ट्रेलिया की कड़ी चुनौती

Womens World Cup, Semi Final, Australia, India, Cricket, Sports

दूसरा सेमीफाइनल आज, भारत ने न्यूजीलैंड को हराकर सेमीफाइनल में बनाई जगह

डर्बी (एजेंसी)। भारतीय महिला क्रिकेट टीम आईसीसी विश्वकप में इतिहास रचने से अब बस चंद कदम की दूरी पर है लेकिन उससे पहले मिताली एंड कंपनी को दूसरे सेमीफाइनल मुकाबले में वीरवार को छह बार की चैंपियन आस्ट्रेलिया की चुनौती से पार पाना होगा। भारतीय महिला टीम ने न्यूजीलैंड के खिलाफ 186 रन की अपनी जबरदस्त जीत की बदौलत विश्वकप के सेमीफाइनल में जगह पक्की की थी।

लेकिन दूसरे सेमीफाइनल में उसके लिए राह काफी मुश्किल होने वाली है जहां वह टूर्नामेंट की सबसे सफल टीम आस्ट्रेलिया का सामना करेगी जिसके खिलाफ उसका पिछला रिकार्ड खास नहीं रहा है। लेकिन यदि टीम इंडिया को पहली बार विश्वकप चैंपियन बनकर इतिहास रचना है तो उसे फाइनल का टिकट पाने के लिए इस चैंपियन टीम को उलटफेर का शिकार बनाना होगा।

इंग्लैंड की टीम दक्षिण अफ्रीका को पहले सेमीफाइनल में हराकर फाइनल में जगह बना चुकी है जिसे भारत इस टूर्नामेंट में अपने पहले ही मैच में 35 रन से शिकस्त दे चुका है। भारतीय टीम इस समय जबरदस्त लय में है और उसने टूर्नामेंट में कमाल का प्रदर्शन किया है।

भारतीय टीम के पास बेहतरीन बल्लेबाजी और गेंदबाजी क्रम

कप्तान और स्टार बल्लेबाज मिताली वनडे में सर्वाधिक रन बनाने वाली खिलाड़ी हैं तो झूलन गोस्वामी अनुभवी और सफल गेंदबाज हैं। टीम के पास बेहतरीन बल्लेबाजी और गेंदबाजी क्रम है जिसने अब तक खुद को साबित किया है। लेकिन आस्ट्रेलिया के खिलाफ उसकी चुनौती सबसे बड़ी होगी जिससे पिछले 42 मैचों में उसने 34 मैच गंवाए हैं।

वर्ष 2013 में भारत की जमीन पर हुए पिछले विश्वकप संस्करण में आस्ट्रेलियाई टीम ने वेस्टइंडीज को 114 रन से पीटकर विश्वकप खिताब जीता था। वहीं टूर्नामेंट के लीग चरण में भी उसका प्रदर्शन काबिलेतारीफ रहा था और भारत को उसने एकतरफा अंदाज में आठ विकेट से करारी शिकस्त दी थी।

ऐसे में भारतीय क्रिकेटरों को ज्यादा सतर्क रहकर खेलना होगा और पिछली गलतियों से सबक लेना होगा। भारत के पास वैसे अच्छा बल्लेबाजी और गेंदबाजी क्रम है और उससे उलटफेर की उम्मीद की जा सकती है। बल्लेबाजों में मिताली टीम की शीर्ष स्कोरर हैं जिन्होंने तीन अर्धशतक और एक शतक सहित 356 रन बनाए हैं। मिताली टीम की सबसे प्रतिभाशाली और मजबूत खिलाड़ी हैं और टीम को उनसे काफी उम्मीदें हैं।

वहीं पूनम राउत, स्मृति मंधाना, दीप्ति शर्मा और हरमनप्रीत कौर भी टीम की बेहतरीन बल्लेबाज हैं जो रनों के लिहाज से अहम योगदान दे रही हैं। गेंदबाजों में दीप्ति शर्मा और एकता बिष्ट टूर्नामेंट में 9-9 विकेट लेकर सबसे सफल गेंदबाज रही हैं जबकि पूनम यादव (आठ विकेट) तीसरी सबसे सफल गेंदबाज हैं। वहीं वनडे में सर्वाधिक विकेट लेने का रिकार्ड अपने नाम रखने वाली झूलन गोस्वामी अनुभवी खिलाड़ी हैं।

गु्रप चरण में दूसरे पायदान पर रही भारतीय टीम

भारत ने वर्ष 2005 में पहली और एकमात्र बार विश्वकप के फाइनल में जगह बनाई थी लेकिन उसे फाइनल में आस्ट्रेलिया के हाथों ही 98 रन से हार झेलनी पड़ी थी। यदि भारतीय महिलाएं इस बार भी फाइनल का टिकट जीतती हैं तो यह दूसरा मौका ही होगा जब वह टूर्नामेंट के खिताबी मुकाबले में पहुंचेगी।

वैसे ग्रुप चरण के मैचों को देखें तो आस्ट्रेलिया ने सात में से छह मैच जीते और दूसरे पायदान पर रही जबकि भारत ने इतने मैचों में लगातार चार मैच जीते थे लेकिन फिर उसे दक्षिण अफ्रीका से 115 रन और आस्ट्रेलिया से आठ विकेट से हार झेलनी पड़ गई। हालांकि न्यूजीलैंड पर जीत से उसने सेमीफाइनल का टिकट हासिल कर लिया। लेकिन एक बार फिर उसे गत चैंपियन टीम का सामना करना होगा।

टीमें:

भारत: मिताली राज (कप्तान), एकता बिष्ट, राजेश्वरी गायकवाड़, झूलन गोस्वामी, मानसी जोशी, हरमनप्रीत कौर, वेदा कृष्णामूर्ति , स्मृति मंधाना, मोना मेशराम, शिखा पांडे, पूनम यादव, नुजहत परवीन, पूनम राउत, दीप्ति शर्मा, सुषमा वर्मा, स्मृति मंधाना।

आस्ट्रेलिया :

मेग लेनिंग (कप्तान), सारा एले, क््िरस्टीन बीम्स, एलेक्स ब्लैकवेल, निकोल बोल्टन, एशले गार्डनर, रशेल हेंस, एलिसा हीली, जेस जोनासेन, बेथ मूनी, पेरी, मेगान शट, बेलिंडा वेकारेवा, एलिसे विलानी, अमांडा जेड वेलिंगटन।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top

Lok Sabha Election 2019