Breaking News

महिला फुटबालरों को पुरुषों के बराबर मिलेगा वेतन

women footballer

सिडनी (एजेंसी)। दुनिया में लगभग हर देश में महिलाओं (women footballer) और पुरुषों के वेतन में अंतर पर सवाल उठते रहे हैं, लेकिन आस्ट्रेलिया ने सदियों से चले आ रहे इस चलन को तोड़ते हुए अपनी राष्ट्रीय महिला फुटबालरों को पुरुषों के बराबर एक समान वेतन देने का फैसला किया है। फुटबाल फेडरेशन आस्ट्रेलिया (एफएफए) और प्रोफेशनल फुटबालर एसोसिएशन (पीएफए) ने बुधवार को आधिकारिक रुप से इसकी घोषणा की, जिसके अनुसार उनकी राष्ट्रीय सीनियर महिला टीम द माटिलदास को राष्ट्रीय पुरुष फुटबालर टीम के खिलाड़यिों के समान वेतन भुगतान किया जाएगा।

इसके अलावा महिला टीम को 2019-20 में हुए राजस्व से राष्ट्रीय टीमों को दिए जाने वाला स्वीकृत 24 फीसदी बोनस भी दिया जाएगा। वहीं प्रायोजन से होने वाले राजस्व में जहां पहले पुरुषों को अधिक राजस्व मिलता था उसमें भी अब महिलाओं को समानता से भुगतान किया जाएगा। महिला टीम की मिडफील्डर एलिस केलोंड नाइट ने कहा, ‘यह नया करार कमाल का है। एक महिला फुटबालर होने के नाते यह ऐसा है जिसका हम हमेशा से सपना देखा करते थे। हम हमेशा से बराबरी का हक चाहते थे। हम पिच पर उस बराबरी के अहसास के साथ उतरना चाहते हैं जो पुरुषों को मिलती है।

  • महिलाओं को भुगतान के अलावा कई अन्य फायदे भी मिलने जा रहे हैं
  • जिसमें उन्हें भी अब पुरुषों की तरह फर्स्ट क्लॉस में सफर करने का मौका मिलेगा।
  • साथ ही विश्वकप की ईनामी राशि में भी खिलाड़ियों के लिए 30 से 40 फीसदी की बढ़ोतरी की गई है।
  • एफएफए के अध्यक्ष क्रिस निकोऊ ने कहा, ‘फुटबाल सभी का खेल है।
  • यह नया करार एक कदम है यह सुनिश्चित करने का कि हम बराबरी, समावेशी के अपने सिद्धांतों का पालन करते हैं।
  • अब महिला और पुरुष फुटबालरों में कोई अंतर नहीं होगा और हमें गर्व है कि हमने आस्ट्रेलिया और दुनिया में एक नया उदाहरण पेश किया है।
  • Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करे।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top