Breaking News

हम तो सन्नी के फैन हैं, वोट तो अभी सोचेंगे?

will you think of votes now?

 चुनावी नैया पार करने के लिए भाजपा ले रही नित नये सहारे

सच कहूँ/सुनील वर्मा
सरसा। मौसम की गर्मी के बीच चुनावी गर्माहट भी बेतहाशा बढ़ रही है। वोट की चोट में अब दो दिन शेष हैं, लेकिन पार्टियां वोटरों को प्रभावित करने के लिए तरह-तरह के हथकंडे अपना रही हैं। वीरवार को सरसा में राजनीतिक रण का मैदान बना हुआ था। उधर कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी, इधर फिल्म अभिनेता सन्नी दयोल चुनावी चौसर बिछाने में जुटे हुए थे। लेकिन शायद वोटर इन बहकावों में आने वाला नहीं है। बेशक सन्नी भाजी के जलशे में भीड़ बहुत उमड़ी हुई थी, लेकिन वोटरों का मिजाज इससे कुछ ज्यादा प्रभावित नहीं हुआ।
जुलूस में शामिल कुछ लोगों से जब बातचीत की गई तो उनका कहना था कि हम तो सन्नी के फेन हैं, वोट तो जहां डालना होगा वहीं डालेंगे। वहीं एक और फेन ने कहा कि पार्टियां अपनी जगह हैं, इंटरटेनमेंट अपनी जगह है। ऐसी विचारशैली से एक चीज तो स्पष्ट होती है कि राजनीतिक पार्टियों के ये सगुफे ज्यादा चलने वाले नहीं हैं कि किसी विख्यात कलाकार, या नेता को बुलाकर वोटरों का रूख अपनी ओर किया जा सके।
खासकर भाजपा की बात करें, तो अभी पिछले दिनों फतेहाबाद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी उम्मीद से ज्यादा फायदा सुनीता दुग्गल को नहीं दे पाए। प्रधानमंत्री के मंच पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल की गैरमौजूदगी सभी को खल रही थी, वहीं मोदी द्वारा संसदीय क्षेत्र के भाजपा प्रत्याशी का नाम तक न बोलना वोटरों को भी अखर रहा है। बेशक चुनाव अंतिम चरण में है।
हर प्रत्याशी इसके लिए एडी-चोटी का जोर लगाए हुए है। ऐसे में भाजपा के लिए दिल्ली का रास्ता काफी कठिन दिख रहा है। आपसी एकजुटता का अभाव होना, प्रचार में पिछड़नाा, यही नहीं आला नेताओं की सभाओं के बाद भी वोटरों का मूड क्लीयर न हो पाना काफी चुनौतीपूर्ण है। उधर कांग्रेस इन संदर्भों में काफी मजबूत नजर आ रही है। अपनी न्याय योजना का खूब प्रचार किया जा रहा है। हालांकि इसका सही आंकलन तो 12 मई को ही हो पाएगा। लेकिन यह तय है कि फिल्म अभिनेताओं के सहारे चुनावी नैया पार होती नहीं दिख रही।

महंगा पड़ा सन्नी का दीदार, जेबकतरों ने लुटी तरी

फिल्म अभिनेता सन्नी दयोल को देखने के लिए हर कोई उतावला था, लेकिन यह उतावलापन कई लोगों के लिए महंगा साबित हुआ। भीड़ में जेबकतरों ने बड़े-बड़ों की जेब पर हाथ साफ कर दिया। कई लोग को यह कहते भी सुने गए कि यार सन्नी का दीदार तो महंगा पड़ गया, अब बिन पैसे घर कैसे जाएंगे। सन्नी के जुलूस में जेबकतरों का पूरा बोलबाला रहा। बताया जा रहा है कि करीब आधा दर्जन लोगों की जेब कट गई।

गर्मी में बनी अव्यवस्था, हलकान होते रहे लोग

यह रोड शो भादरा पार्क से शुरू होकर भादरा बाजार, भगत सिंह चौक, घंटाघर चौक, सूरतगढिया चौक व मुख्य बाजार से होते हुए सुभाष चौक पर सम्पन्न हुआ। रोड शो में सन्नी देयोल ने सभी का हाथ हिलाकर अभिनंदन किया तथा भारत माता की जय के नारे लगाए। रोड शो के दौरान सरसा लोकसभा क्षेत्र से भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला व भाजपा प्रत्याशी सुनीता दुग्गल उनके साथ रही। वहीं सन्नी दयोल के जुलसू में गर्मी ने भी जमकर उत्पात मचाया। सूर्य की बेतहाश तपिश के चलते लोग प्यास के मारे इधर-उधर भागते नजर आए। बीच-बची में तो अव्यवस्था का आलम भी बन गया था। लेकिन लोगों के हरमनप्रिय अभिनेता के प्रति उत्साह कम नहीं हुआ।

चर्चा जोरों पर: पीएम प्रत्याशी का नाम तो बताना ही भूल गए!

चुनावी चर्चा में पीएम मोदी की रैली को लेकर एक बार और चर्चा में आ रही है कि फतेहाबाद में जनसभा दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 30 मिनट के भाषण के दौरान भाजपा प्रत्याशी का नाम बताना ही भूल गए। बता दें कि पीएम मोदी की यह जनसभा सरसा के अलावा हिसार संसदीय क्षेत्र के मद्देनजर रखी गई थी। लेकिन मोदी जी ने किसी भी प्रत्याशी का नाम लेकर लोगों को वोट डालने के लिए विशेष अपील करते नजर नहीं आए। यह विषय इन दिनों गांव की चौपालों में खूब चर्चा पर है कि शायद मोदी जी प्रत्याशी का नाम ही भूल गए होंगे!

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top