बठिंडा : साध-संगत ने बनाकर दिया पक्का आशियाना

0
welfare-work

सराहनीय प्रयास। जसविन्द्र कौर की खस्ताहल मकान की चिंता हुई खत्म | Welfare Work

बठिंडा/मौड़ मंडी(राकेश गर्ग)। डेरा सच्चा सौदा की ओर से चलाए जा रहे 134 (Welfare Work) मानवता भलाई कार्यों के अंतर्गत ब्लॉक मोड़ में स्थित गांव कमालू सवैच में साध-संगत की ओर से एक विधवा बहन को पक्का मकान बना कर दिया गया। गांव के भंगीदास केवल सिंह इन्सां ने बताया कि गांव कमालू सवैच की निवासी जसविन्दर कौर का पति भूरा सिंह पांच वर्ष पहले इस दुनिया को अलविदा कह गया। घर में कमाने वाला और कोई नहीं था, जसविन्दर कौर के एक बेटी है, जिसका घर का गुजारा बहुत मुश्किल से चलता है। विधवा बहन के मकान की हालत काफी खस्ता थी जो किसी भी समय गिर सकता था, जिसका जसविन्दर कौर को हर समय गिरने का डर सताता रहता था

परंतु आर्थिक हालात कमजोर होने के कारण वह अपना घर बनाने में असमर्थ थी। जब इस संबंधी गांव की साध-संगत को पता चला तो उन्होंने तुरंत ब्लॉक समिति को इस संबंधी अवगत करवाया। इसके बाद डेरा सच्चा सौदा की साध-संगत ने विचार-विमर्श कर विधवा बहन का मकान बनाने का बीड़ा उठा लिया। साध-संगत ने कड़ाके की ठंड की परवाह किए बिना देखते ही देखते विधवा बहन को नए दो पक्के कमरे, रसोई, शौचालय, बाथरूम और घर की चार दीवारी तैयार करके दे दी।

इस कार्य में करीब 100 सेवादार बहन-भाईयों के अलावा, ब्लॉक भंगीदास राकेश गर्ग, 15 मैंबर अमृतपाल गोगी,15 मैंबर दर्शन सिंह, 15 मैंबर गुरपाल सिंह, 15 मैंबर कुलवंत सिंह, 15 मैंबर लीला सिंह और जिम्मेवारों ने बड़े उत्साह के साथ सहयोग दिया।

बिना किसी स्वार्थ के साध-संगत मानवता की सेवा कर रही : वीरा सिंह इन्सां

ब्लॉक के 25 मैंबर वीरा सिंह इन्सां व 25 मैंबर गुरदीप सिंह इन्सां ने बताया कि पूज्य गुरू संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां की ओर से 134 मानवता भलाई कार्य चलाए जा रहे हैं और इन कार्यों के अंतर्गत साध-संगत ने विधवा बहन जसविन्दर कौर को मकान बना कर दिया है। उन्होंने बताया कि साध संगत बिना किसी स्वार्थ के डेरा सच्चा सौदा की पवित्र शिक्षाओं पर चलते हुए बढ़चढ़ कर ऐसे मानवता भलाई के कार्य कर रही है और यह कार्य हमेशा जारी रखे जाएंगे।

साध -संगत ने बहुत बड़ा पुण्य का काम किया है : सरपंच जगदीश सिंह

गांव के सरपंच जगदीश सिंह व पंच भोला सिंह का कहना था कि जो डेरा सच्चा सौदा की साध संगत ऐसे मानवता भलाई कार्य कर रही है वह बहुत ही प्रशंसनीय हैं। उन्होंने कहा कि अब विधवा जसविन्दर कौर को साध-संगत ने मकान बना देने का बहुत बड़ा पुण्य कमाया है क्योंकि विधवा बहन को मकान की सख़्त जरूरत थी जो अब पूरी हो गई है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।