Google Maps में बड़ा बदलाव, अब GPS पर नहीं visual positioning system पर करेगा काम

0
visual positioning system

गूगल जल्द लाने वाला है वीपीएस से लैस गूगल मैप्स| visual positioning system

Edited by Vijay Sharma

नई दिल्ली (sach kahoon)। आप गूगल मैप्स के जरिए कहीं भी नेविगेट करके पहुंच जाते हैं। गूगल मैप्स GPS यानी की ग्लोबल पॉजीशनिंग सिस्टम पर काम करता है। जीपीएस की मदद से ही हम किसी रास्ते को नेविगेट करते हैं। लेकिन, क्या आप जानते हैं कि गूगल मैप्स में एक और नया फीचर जुड़ने वाला है। जिसे VPS (visual positioning system) कहते हैं। इसकी मदद से आपको सिर्फ रास्ते का डायरेक्शन ही नहीं नेविगेट होगा। बल्कि आप इसकी मदद से रास्ते के आस-पास की इमारतों, दुकानों आदि को भी देख सकेंगे। इस फीचर की मदद से आपको काफी रियलिस्टिक सी फीलिंग आएगी। जी हां, गूगल जल्द ही वीपीएस से लैस गूगल मैप्स लाने वाला है।

इस तरह काम करेगा visual positioning system

सबसे पहले जान लेते हैं कि VPS आखिर किस तरह से काम करेगा।  कैसे आपको रास्ते के आस-पास की इमारतों आदि को भी दिखाएगा। इसके लिए गूगल मैप्स आपके स्मार्टफोन के कैमरा का इस्तेमाल करेगा। इस कैमरे की मदद से गूगल मैप्स आपके आस-पास की चीजों की तस्वीर लेगा। फिर आपको बेस्ट रास्ता बताएगा। इसके अलावा गूगल मैप्स में VPS के जरिए आपको 3-डी डायरेक्शन भी मिलेगा।

ऐनिमेटेड कैरेक्टर किसी भी स्ट्रीट को ढूंढ़ने में करेगा आपकी मदद

VPS (visual positioning system) को एक्टिवेट करने के लिए आपको गूगल मैप्स के नेविगेशन के समय ही विजुअल व्यू को एक्टिवेट करना होगा। इसके बाद आपको अपने स्मार्टफोन के कैमरे को सिर्फ उस दिशा की तरफ रखना होगा। जिस दिशा में आप जाना चाह रहे हैं। आप गूगल मैप्स के ओवरले पर स्ट्रीट व्यू देख सकेंगे। आप यह कह सकते हैं कि गूगल मैप्स के स्ट्रीट व्यू का यह एक दमदार एडिशन होगा।  इसके अलावा आपके गूगल मैप्स के साथ एक ऐनिमेटेड कैरेक्टर भी दिखाई देगा। जो आपको किसी भी स्ट्रीट को ढूंढ़ने में मदद करेगा।

वॉइस कमांड से भीकर सकेंगे ऑपरेट

  • गूगल कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुंदर पिचाई ने बताया कि इसे वॉइस कमांड से भी ऑपरेट कर सकेंगे।
  • इस नई तकनीक का लाभ बड़े शहरों से लेकर कस्बों तक होगा।
  • आप इस नई तकनीक के माध्यम से अपने आस-पास मौजूद सभी चीजों की जानकारी हासिल कर सकेंगे।
  • गूगल जल्द ही इस फीचर को गूगल मैप्स में जोड़ेगा।
  • फिलहाल इस फीचर की बीटा टेस्टिंग चल रही है।
  • गूगल मैप्स के लिए यह एक बड़ा बदलाव साबित हो सकता है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करे।