वीजा की डिजिटसिक्योर और एचडीएफसी बैंक के साथ साझेदारी

0
Visas DigitSecure and partnership with HDFC Bank

नयी दिल्ली l भुगतान प्रौद्योगिकी कंपनी वीजा ने डिजिटसिक्योर और एचडीएफसी बैंक के साथ साझेदारी करते हुए आज पीसीआई सर्टिफाइड टैप टू फोन कार्ड सिस्टम को लागू करने की घोषणा की है। कंपनी ने आज यहां जारी बयान कहा कि डिलिवरीप्लस इस सिस्टम को अपनाने वाली पहली कंपनी होगी और एचडीएफएसी बैंक अधिग्रहणकर्ता होगा। यह सिस्टम कंपनियों और व्यापारियों को बिना किसी कार्ड डिवाइस के अपने एनएफसी इनेबल्ड एंड्रॉइड स्मार्टफोन की मदद से सुरक्षित तौर पर तुरंत कॉन्टेक्टलेस भुगतान स्वीकार करने में सहायक होगा।

मेक इन इंडिया की तर्ज पर लोकल इनोवेशन को बढ़ावा देते हुए डिजिटसिक्योर एशिया प्रशांत क्षेत्र की पहली कंपनी है, जिसे ये टेक्नोलॉजी लागू करने के लिए पीसीआई सिक्योरिटी सर्टिफिकेशन मिला है। टैप टू फोन टेक्नोलॉजी व्यापारियों और कंपनियों को इस पीसीआई सर्टिफाइड क्लाउड आधारित पेमेंट सिस्टम में शामिल करते हुए वित्तीय संस्थानों के लिए संचालन की लागत काफी कम करेगी। इससे बैंक और फिनटेक कंपनियां ज्यादा व्यापारियों को कार्ड पेमेंट स्वीकार करने में मदद कर सकेंगी। कार्डधारक किसी भी व्यापारी के स्मार्टफोन पर टैप करके आसान और सुरक्षित कॉन्टेक्टलेस पेमेंट कर पाएंगे। इस सिस्टम के लागू होने के साथ ही भारत उन 15 से ज्यादा देशों की सूची में शामिल हो जाएगा, जो व्यापारियों को कॉन्टेक्टलेस कार्ड पेमेंट स्वीकार करने के लिए वीजा टैप टू फोन टेक्नोलॉजी मुहैया करा रहे हैं।

वीजा के इंडिया एवं दक्षिण एशिया के मर्चेंट सेल्स एंड एक्वायरिंग प्रमुख शैलेश पॉल ने कहा कि महामारी के कारण व्यवसायों को सुरक्षित और कॉन्टेक्टलेस पेमेंट अपनाने की जरूरत महसूस हुई है। 5 करोड़ छोटे व्यवसायों को डिजिटल बनाने की वैश्विक प्रतिबद्धता को ध्यान में रखते हुए उनकी कंपनी एचडीएफसी बैंक और डिजिटसिक्योर के साथ साझेदारी कर पीसीआई सर्टिफाइड टैप टू फोन कार्ड सिस्टम को पहली बार लागू कर उत्साहित है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।