पुलिसकर्मियो के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर ग्रामीणों का शव के साथ धरना

0
villagers protest with dead body - sach kahoon news

ग्रामीणों का आरोप है कि वृद्ध की मौत पुलिस कर्मियों द्वारा पिटाई के कारण हुई है

श्रीगंगानगर (एजेंसी)। राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले में राजियासर थाना पुलिस द्वारा कथित रूप से पिटाई किए जाने से घायल वृद्ध की मौत के शव को लेकर ग्रामीणो ने प्राथमिक स्वास्थय केन्द्र परसिर में धरना लगा दिया। प्राप्त जानकारी के अनुसार सूरतगढ़ की एक अदालत में मारपीट के विचाराधीन एक प्रकरण में गांव बीरमाना निवासी रघुवीरसिंह उर्फ गुलाब (55) के विरुद्ध पिछले दिनों गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया था।

 दीवार फांद कर भागते समय रघुवीरसिंह घायल हो गया

इस वारंट की तामील करवाने के लिए गत 12 फरवरी को राजियासर थाना के दो सिपाही राजेश और राकेश विगत 12 फरवरी को बीरमाना रघुवीरसिंह के घर गए। ग्रामीणों का आरोप है कि वृद्ध की मौत पुलिस कर्मियों द्वारा पिटाई के कारण हुई है। ग्रामीण पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग कर रहे है। धरनास्थल पर पुलिस एवं प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी ग्रामीणों से समझाइश करने में लगे हैं। उपपुलिस अधीक्षक विद्याप्रकाश ने बताया कि रघुवीरसिंह घरवालों ने पकड़े जाने से बचाने के लिए भगा दिया। घर के पीछे की दीवार फांद कर भागते समय रघुवीरसिंह घायल हो गया। उसके पांव में फ्रैक्चर हो गया।

  • पुलिसकर्मियों ने परिवार वालों द्वारा विरोध किए जाने को देखते हुए थाने में सूचना दे दी।
  • थाने से अन्य पुलिसकर्मी कुछ ही देर में बीरमाना पहुंच गए।
  • पशुओं के बाड़े में गिरने से घायल हुए रघुवीर सिंह को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया।
  • उसकी तबीयत ठीक होने के कारण 16 फरवरी को उसको अस्पताल से छुट्टी मिल गयी थी।
  • कल पुन: तबियत खराब होने के कारण उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां देर रात्रि उसकी मौत हो गयी।
  • जब तक पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई नहीं होती तब तक शव का अंतिम संस्कार नहीं किया जाएगा।
  • शव को डीप फ्रीजर में रखा हुआ है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।