लुधियाना में छह हजार रेहड़ियां घरों तक पहुंचाएंगी सब्जियां

0
Vegetables Delivery

 प्रशासन फल व सब्जी बेचने वालों को जारी करेगा पास | Vegetables Delivery

लुधियाना (सच कहूँ न्यूज)। लोगों को जरूरमंद चीजों के लिए परेशानी का सामना न करना पड़े। इसके लिए प्रशासन की तरफ से हरसंभव प्रयास किया जा रहा है। फल सब्जियांं जरूरत का सामान लोगों तक पहुंचाने के लिए लोगों को पास जारी किए जा रहे हैं। शहर विभिन्न इलाकों में लगभग 6 हजार रेहड़ियां लोगों के घरों तक सब्जियांं पहुंचाएंगी। शुक्रवार सुबह कैबिनेट मंत्री भारत भूषण आशु व सीपी राकेश अग्रवाल सब्जी मंडी पहुंचे और व्यवस्था का जायजा लिया। प्रशासन के अधिकािरियों को निर्देश दिए गए कि लोगों के घरों तक सब्जी की सप्लाई सही तरीके से पहुंचे और किसी भी क्षेत्र के लोगों को सब्जी न मिलने से परेशानी न झेलनी पड़े।

जाम में फंसे रहे लोग

लुधियाना पुलिस की ढीली व्यवस्था के कारण जीटी रोड जालंधर बाईपास पर सब्जी लाने जा रहे लोगों काफी परेशानी झेलनी पड़ी। लोग कई घंटो तक जाम में फंसे रहे। ड्यूटी पर तैनात पुलिस वालों ने जाम खुलवाने के लिए कोई प्रयास नहीं किया। वाहनों को सीगल रोड पर यू टर्न करवा कर लोगों को जबरदस्ती वापस भेजा गया। जिससे वाहनों की लंबी लाइनें लग गई। जिन लोगों प्रशासन से मंजूरी ली थी, उनको भी सब्जी मंडी के अंदर जाने नहीं दिया गया।

 कैबिनेट मंत्री व सीपी राकेश ने लिया व्यवस्था का जायजा

  • रेहड़ी वाले छह से दस बजे तक खरीदेंगे सब्जी।
  • मंडी में सब्जी की फड़ियां नहीं लगेंगी।
  • रेहड़ी वाले सुबह 6 से 10 बजे तक सीधा आढ़तियों से सब्जी खरीदेंगे।
  • आम लोगों के लिए मंडी में जाने पर पाबंदी लगा दी गई है।
  • नगर निगम से मान्यता प्राप्त कार्ड होल्डर छह हजार रेहड़ी वालों को सब्जी बेचने की मंजूरी दी गई है।
  • उन्हें वार्ड व मोहल्ले के आधार पर बांट दिया गया है।

उन्हें दिए गए इलाकों में ही वो सब्जी बेचेंगे। एक वार्ड में करीब 50 रेहड़ियां सब्जी बेचेंगी। उन्हें यह भी हिदायतें दी कि एक समय में एक ही ग्राहक को सब्जी दी जाए। दूसरा ग्राहक उससे एक मीटर की दूरी पर खड़ा होगा। यह भी हिदायतें दी कि एक समय में एक ही ग्राहक को सब्जी दी जाए। दूसरा ग्राहक उससे एक मीटर की दूरी पर खड़ा होकर अपनी बारी का इंतजार का इंतजार करेगा। नियम को तोड़ने वाले रेहड़ी चालक का कार्ड रद कर उसके खिलाफ कार्रवाई होगी।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।