उन्नाव: कड़ी सुरक्षा के बीच पीड़िता का अंतिम संस्कार

0
Unnao Rape Family Demands CM Adityanath's Presence

पीड़िता की बहन बोली-मेरी बहन न्याय के लिए लड़ते-लड़ते जिंदगी की जंग हार गई | Unnao Rape

हमारे परिवार के सदस्यों को सरकारी नौकरी दी जाए

उन्नाव (एजेंसी)। उत्तर प्रदेश में उन्नाव के बिहार क्षेत्र में रविवार को कड़े सुरक्षा बंदोबस्त के बीच बलात्कार पीड़िता के शव को भू समाधि दे दी गयी। इस मौके पर योगी सरकार के मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य और कमल रानी वरूण के अलावा मंडलायुक्त मुकेश मेश्राम समेत जिला और पुलिस प्रशासन के आला अधिकारी मौजूद थे। इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बुलाने की मांग पर अड़े पीड़िता के परिजनों ने शव का अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया था लेकिन बाद में मंडलायुक्त के समझाने मनाने पर वे राजी हो गये।

परिजनों की स्थानीय पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप | Unnao Rape

  • मांगे पूरी होने के बाद ही अंतिम संस्कार किया जाएगा।
  • पीड़िता के चाचा ने कहा कि पुलिस ने न्याय मांगने बिहार थाने गए थे तो पीड़िता के पिता और उन्हे पुलिस ने मारपीट कर भगा दिया।
  • पीड़िता और उसकी बहन के साथ भी अभद्रता की गयी।
  • स्थानीय पुलिस आरोपी ग्राम प्रधान पति के इशारे पर नाचती थी।
  • जिले के पुलिस प्रशासनिक अधिकारी चप्पे चप्पे पर नजर बनाए हुए हैं।
  • जिले के पुलिस प्रशासनिक अधिकारी चप्पे चप्पे पर नजर बनाए हुए हैं।

पीडिता का शव शनिवार देर रात दिल्ली से यहां लाया गया था। जिला प्रशासन ने परिजनों की सहमति से अंतिम संस्कार की तैयारी भी शुरू कर दी थी। रात में तहसील और बिहार थाने में रूके जिले के आला अधिकारी सुबह के पांच बजने तक गांव पहुंच गए थे। प्रशासनिक अधिकारियों ने बताया था कि परिजन किसी रिश्तेदार का इंतजार कर रहे है। उनके आने के बाद परिजनों की इच्छानुसार पीड़िता के शव को दफनाया जाएगा। जिस स्थान पर शव को दफनाया जाना है वहां पहले से ही पीड़िता के परिजनों की समाधियां बनी हुई है।

अंतिम यात्रा में शामिल होने के लिए सपा नेताओं में एमएलसी सुनील साजन और जिलाध्यक्ष के साथ पार्टी कार्यकर्ता गांव में मौजूद है। सुबह से ही ग्रामीणों की भीड़ पीड़िता के दरवाजे पहुंचने लगी है। अनहोनी से निपटने के लिए गांव में सुबह पुलिस की गारद बढ़ा दी गई है। मौके पर भारी पुलिस फोर्स होने से शांति बनी हुई है। जिले के पुलिस प्रशासनिक अधिकारी चप्पे चप्पे पर नजर बनाए हुए हैं।

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करे।