हरियाणा

पूरक परीक्षाओं में बाड़ ही खा रही थी खेत, नकल करवाते मिले शिक्षक

Teachers, Support, Copying, Haryana

बोर्ड परीक्षा। चेयरमैन ने किया रिलीव, प्रदेशभर से पकड़े गए 269 नकलची

  • हिसार में 18 विद्यार्थियों पर नकल के केस बने

सच कहूँ/संदीप सिंहमार हिसार। हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड द्वारा बोर्ड की वार्षिक प्रणाली के अंतर्गत सैकेंडरी एवं सीनियर सैकेंडरी की कंपार्टमेंट, आंशिक अंक सुधार, अतिरिक्त विषय एवं मर्सी चांस की परीक्षाओं के दौरान एक बार फिर बाड़ ही खेत को खाती मिली। हिसार में 2 शिक्षक टीजीटी कुलदीप सिंह व जेबीटी राजेश कुमार को नकल करवाने में सहयोग करते पाया गया, जिस पर शिक्षा बोर्ड अध्यक्ष डॉ. जगबीर सिंह ने इन दोनों शिक्षकों को ड्यूटी से रिलीव कर दिया गया।

ऐसे ही नजारे प्रदेश के अन्य परीक्षा केंद्रों पर भी देखने को मिले। प्रदेशभर में 285 परीक्षा केंद्रों पर 83 हजार 811 परीक्षार्थियों ने यह परीक्षा दी। हिसार में 23 परीक्षा केंद्रों पर 7003 विद्यार्थियों ने परीक्षा दी। चेयरमैन फ्लाइंग व स्कूल फ्लाइंग ने लगातार चेकिंग करते हुए 18 विद्यार्थियों पर नकल के केस बनाए। शिक्षा बोर्ड अध्यक्ष डॉ. जगबीर सिंह ने हिसार में विभिन्न स्कूलों में बनाए गए परीक्षा केंद्रों का निरीक्षण करने के दौरान बताया कि हिसार में 7 परीक्षा केंद्रों पर 2018 परीक्षार्थियों ने 10वीं जबकि 16 परीक्षा केंद्रों पर 4985 विद्यार्थियों ने 12वीं की परीक्षा दी।

परीक्षाएं संचालित करने के लिए नियुक्त किए गए हैं 4275 सुपरवाइजर एवं 285 केंद्र अधीक्षक

राज्य में परीक्षा केंद्रों पर सुव्यवस्थित परीक्षाएं संचालित करने के लिए 4275 सुपरवाइजर एवं 285 केंद्र अधीक्षक नियुक्त किए गए हैं। प्रदेशभर में 79 सैकेंडरी तथा 206 सीनियर सैकेंडरी परीक्षा केंद्र बनाए गए थे। इन परीक्षाओं में नकल को अति प्रभावी ढंग से रोकने व अन्य अनुचित साधनों के इस्तेमाल पर रोक लगाने के लिए 68 फ्लाइंग स्कवैड ने परीक्षा केंद्रों पर छामामारी करते हुए चेकिंग अभियान चलाया। उन्होंने बताया कि हिसार में निरीक्षण की जिम्मेदारी उन्होंने स्वयं ली थी और स्कूल फ्लाइंग के साथ-साथ चेयरमैन फ्लाइंग ने यहां सभी परीक्षा केंद्रों का निरीक्षण किया।

दोषियों के विरूद्ध होगी कार्रवाई

परीक्षा के दौरान शिक्षकों द्वारा की गई किसी भी प्रकार की कोताही बरतने को गंभीरता से लिया जाएगा तथा दोषियों के विरुद्ध कार्रवाही की जाएगी। नकल करने को नैतिक दृष्टि से सर्वथा अनुचित माना गया है। शिक्षा बोर्ड शिक्षा व परीक्षा में सुधार लाने के लिए व नकल को जड़मूल समाप्त करने के लिए कृत संकल्प है।

डॉ. जगबीर सिंह,चेयरमैन
हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड, भिवानी।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top