Breaking News

हाइवोल्टेज तारों की चपेट में आने से दो बच्चों की मौत, पिता-पुत्री घायल

Two, Children, Dieth, High voltage, Wires

डेरा श्रद्धालुओं ने घायलों को पहुंचाया नागरिक अस्पताल

सच कहूँ/सुनील वर्मा सरसा। शाह सतनाम जी मार्ग स्थित प्रीत नगर की गली नंबर 13 में रविवार की सुबह छत पर खेलते वक्त हाइवोल्टेज तारों की चपेट में आने से दो बच्चों की मौत हो गई। वहीं एक बच्ची व एक व्यक्ति झुलस गए। घटना की सूचना मिलते ही क्षेत्र से काफी संख्या में डेरा सच्चा सौदा के श्रद्धालु मौके पर पहुंचे और घायलों को तुरंत नागरिक अस्पताल में उपचार के लिए पहुंचाया। वहीं जैसे ही घटना की जानकारी डेरा सच्चा सौदा प्रबंधन को मिली तो तुरंत कृष्णपाल चौहान, बृजलाल इन्सां व सुभाष इन्सां नागरिक अस्पताल में पहुंचे और पीड़ित परिवार को हर संभव मदद का आश्वासन दिया।

इसके अलावा डेरा श्रद्धालुओं ने नागरिक अस्पताल में घायलों को प्राथमिक उपचार के बाद तुरंत शाह सतनाम जी स्पेशलिटी अस्पताल में रेफर करवाकर वहां उनका इलाज शुरू करवाया। मृतकों में ढाई वर्षीय प्रिंसेज पुत्री सुच्चा सिंह व 9 वर्षीय सुखदीप पुत्र राजबीर, जबकि घायलों में राजमीत पुत्री राजबीर व राजबीर सिंह स्वयं शामिल हैं। सूचना मिलने पर पुलिस के आलाधिकारी भी मौके पर पहुंचे। वहीं सूचना मिलने पर बिजली निगम के अधिकारी भी मौके पर पहुंचे और घटनास्थल का निरीक्षण किया।

छुट्टी के चलते छत पर खेल रहे थे बच्चे

प्रीत नगर स्थित गली नंबर 13 में सुच्चा सिंह व राजबीर किराए के मकान में रहते हैं। रविवार की सुबह सुच्चा सिंह काम पर चला गया, जबकि राजबीर नीचे घर में बैठा था। सुखदीप, प्रिंसेज व राजमीत तीनों छुट्टी होने के चलते छत पर खेल रहे थे। सुबह करीब 11 बजे सुखदीप छत पर पड़ी लोहे की पाइप को उठाकर दूसरी साइड करने का प्रयास कर रहा था। पाइप लंबी होने के कारण घर से कुछ ही दूरी से गुजर रही हाइवोल्टेज तारों से पाइप टकराकर दीवार पर टिक गई।

जिससे दीवार में भी अर्थिंग होने से करंट आ गया और सुखदीप बुरी तरह झुलस गया। इसी दौरान ढाई वर्षीय प्रिंसेज ने जैसे ही सुखदीप के पैर को पकड़ने का प्रयास किया तो उसे भी करंट का जोरदार झटका लगा। जिससे उसकी भी मौके पर ही मौत हो गई। शोर मचाने पर उनके पास खड़ी राजमीत ने भी उन्हें पकड़ने का प्रयास किया, जिससे वह भी झुलस गई। राजमीत का शोर सुनकर नीचे बैठा राजबीर सिंह भागकर उपर आया और बच्चों को बचाने का प्रयास किया, जिसमें वह भी झुलस गया।

तारों को हटाने के हो चुके हैं टेंडर

हालांकि शहरवासियों ने घरों के निकट से गुजरने वाली हाइटेंशन तारों को हटाने के लिए निगम को कई बार लिखित में अवगत करवाया हुआ है। तारों को हटाने के लिए कुछ माह पूर्व निगम की ओर से टेंडर भी जारी किए जा चुके हैं। लेकिन अभी तक तारों को हटाने का कार्य शुरू नहीं किया जा सका है।
फोटो:सरसा02- घटनास्थल का निरीक्षण करते डीएसपी आर्यन चौधरी व अन्य।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top