तेल लोड टैंकर पर चढ़े दो बच्चे, हाइवोल्टेज करंट की चपेट में आए

0
Jayjayanti Railway Station Accident

जैजैवंती रेलवे स्टेशन पर हुआ हादसा

  • गंभीर रूप से झुलसने से रोहतक पीजीआई रेफर

जुलाना (सच कहूँ न्यूज)। बुधवार को जैजैवंती रेलवे स्टेशन पर खड़े तेल लोड टैंकर की छत पर चढ़ने से दो बच्चे 25 हजार हाई वोल्टेज करंट की तार से टकरा गए। हादसे में दोनों बच्चे गंभीर रूप से झुलस गए। उपचार के लिए बच्चों को जुलाना के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर लाया गया। हालत गंभीर होने के कारण डाक्टरों ने उन्हें पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया।  जानकारी के अनुसार असौदा से जम्मूतवी जा रहे तेल लोड टैंकर किसान आंदोलन के कारण जैजैवंती रेलवे स्टेशन पर 5 अक्तूबर से खड़ा है।

करनाल जिले के गढ़पुर टापू गांव निवासी मजदूर बेरी मेले में जा रहे थे। गढ़वाली खेड़ा गांव में धान काटने का काम मिलने पर परिवार सहित गांव के पास रूक गए। बुधवार को दोपहर के समय फतेह सिंह के बेटे आशीन (12) और आरीफ (10) पानी लेने के लिए रेलवे स्टेशन पर पहुंचे तो रेलवे स्टेशन पर सीढ़ियों के द्वारा तेल लोड टैंकर पर चढ़ गए।

इसी दौरान रेलवे की हाईवोल्टेज करंट की तारों ने दोनों को दूर फैंक दिया। करंट लगने से दोनों गंभीर रूप से झुलस गए। घटना को देख रहे ग्रामीणों ने परिजनों को सूचित किया। दोनों को जैजैवंती के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में ले जाया गया। इसके बाद हालत गंभीर होने पर रोहतक पीजीआई रेफर कर दिया गया। वहीं इस दौरान विभाग की लापरवाही भी सामने आई है। इन टैंकरों में लाखों रुपये का तेल होने के बाद भी दिन में कोई गार्ड तैनात नहीं है। जैजैवंती रेलवे स्टेशन मास्टर परमानंद ने कहा कि केवल रात को ड्यूअी लगती है, दिन में नहीं। वहीं बिना गार्ड के तेल चोरी की संभावना भी बनी जाती है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।