अबोहर : हादसे में मां-बेटे की दर्दनाक मौत, पिता चोटिल

0
Road-Accident

शादी समारोह में शिरकत कर वापिस लौट रहा था परिवार | Road Accident

अबोहर (सचकहूँ-सुधीर अरोड़ा)। गांव बकैनवाला निवासी एक परिवार में गत रात्रि शादी की खुशियां उस समय मातम में बदल गई जब अबोहर में आयोजित शादी समारोह से वापिस कार में बकैन वाला जा रहे एक दंपत्ति की कार फाजिल्का रोड पर एक केंटर से टकराने के बाद एक अन्य (Road Accident) कार में टकरा गई, जिसमें कार में सवार एक महिला व उसके बेटे की दर्दनाक मौत हो गई। जबकि महिला का पति घायल हो गया। मृतकों के शवों को सरकारी अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया है जबकि घायल व्यक्ति को इलाज के लिए सरकारी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

घायल व्यक्ति को इलाज के लिए सरकारी अस्पताल में करवाया भर्ती

इस हादसे के बाद पूरे गांव में शोक की लहर दौड़ गई। जानकारी अनुसार गांव बकैनवाला निवासी मनप्रीत सिंह पुत्र गुरमीत सिंह अपनी पत्नी रघुबीर कौर आयु करीब 40 वर्ष तथा उनका इकलौता बेटा 14 वर्षीय खुशप्रीत गत रात्रि अबोहर के मलोट रोड स्थित एक पैलेस में शादी समारोह में भाग लेकर रात्रि करीब 11 बजे अपनी कार से वापिस अपने गांव बकैन वाला जा रहे थे कि जब उनकी कार फाजिल्का रोड स्थित अनाज मंडी के निकट पहुंची तो एक केंटर के पिछले हिस्से से उनकी तेजगति कार जा टकराई, जिससे कार का अगला हिस्सा बुरी तरह से क्षग्रिस्त हो गया। इसी दौरान यह कार अनिंयंत्रित होकर एक अन्य कार से टकरा गई, जिससे कार में सवार मां-बेटा बुरी तरह से घायल हो गए।

जबकि गुरप्रीत सिंह भी घायल हो गया। आसपास के लोगों ने कड़ी मशक्त के बाद उन्हें कार से बाहर निकाला और सरकारी अस्पताल में पहुंचाया, जहां ले जाने पर डॉक्टरों ने मां बेटे को मृत घोषित कर दिया, जिनके शवों को सिटी 1 की पुलिस ने अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया। घटना के बाद सिटी 1 के प्रभारी चंद्र शेखर व एएसआई सुखविंदर सिंह अपनी टीम सहित मौके पर पहुंचने और क्षतिग्रस्त वाहनों को मार्ग से हटवाया। पुलिस ने घायल मनप्रीत के पिता गुरप्रीत के बयान पर 174 की कार्रवाई की है।

आठवीं का छात्र था मृतक  14 वर्षीय खुशप्रीत | Road Accident

इस हादसे का दुख पहलू यह रहा कि 14 वर्षीय खुशप्रीत जो कि गांव हरिपुरा स्थित डीएवी स्कूल का आठवीं का छात्र था और बडे शौंक से शादी समारोह को एटेंड कर वापिस लौट रहा था। शादी समारोह के दौरान उसने बडे शौंक से अपनी फोटो भी खिंचवाई थी लेकिन उसे क्या मालूम था कि यह फोटो उसकी जिंदगी की आखिरी फोटो होगी। आज शनिवार को जब उसके रिश्तेदारों ने यह फोटो मीडिया कर्मियों को दी तो उनकी आंखों से अश्रु नहीं रूक रहे थे।

इधर इस दुखद घटना की सूचना मिलते ही डीएवी हरिपुरा स्कूल की समस्त प्रबंधक कमेटी तथा स्कूली बच्चों व उसके सहपाठियों में गम की लहर दौड़ गई। स्कूल के चेयरमैन बलवीर सिंह दानेवालिया व प्रिंसीपल सुखदेव सिंह सहित समस्त अध्यापकों तथा बच्चों ने स्कूल की प्रार्थना सभा में दो मिनट का मौन रखकर परमात्मा से बिछुड चुके खुशप्रीत की आत्मिक शांति की कामना की।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।