आज देश-विदेश में रक्तदान करेंगे डेरा सच्चा सौदा के श्रद्धालु

0
Blood Donation

विश्व थैलेसीमिया दिवस। ‘एक मुस्कान’ थैलेसीमिया के बच्चों के नाम, डेरा सच्चा सौदा ने उठाया बीड़ा (Blood Donation)

अश्वनी चावला/सच कहूँ  चंडीगढ़। देश में चल रही कोरोना की महामारी के दौरान बड़ी संख्या में ब्लड बैंक ही खून की कमी से जूझ रहे हैं। ऐसे में थैलेसीमिया जैसी बीमारी से निपटना भी मुश्किल हो रहा है। इस मुश्किल दौर में डेरा सच्चा सौदा, सरसा ने अपना मदद का हाथ आगे बढ़ाते हुए देशभर के सभी राज्यों में ब्लड की कमी को दूर करने का बीड़ा उठा लिया है। इसके तहत न सिर्फ पिछले एक सप्ताह से देशभर के ज्यादातर जगहों पर लगातार खूनदान किया जा रहा है। वहीं आज विश्व थैलेसीमिया दिवस के उपलक्ष्य में विशाल स्तर पर डेरा सच्चा सौदा रक्तदान करने जा रहा है।
थैलेसीमिया से जूझ रहे छोटे बच्चों के लिए होने जा रहे आज के बड़े स्तर पर रक्तदान कैम्पेन को ‘एक मुस्कान’ नाम दिया गया है।। एक मुस्कान के तहत डेरा सच्चा सौदा थैलेसीमिया से पीड़ित बच्चों को ज्यादा से ज्यादा रक्त उपलब्ध कराने के साथ-साथ उनके चेहरे पर मुस्कान लाने की भी कोशिश करेगा। (Blood Donation) डेरा सच्चा सौदा प्रबंध समिति ने जानकारी देते हुए बताया कि डेरा सच्चा सौदा पिछले कई दशकों से रक्तदान करता आया है और रक्तदान करने में डेरा सच्चा सौदा के नाम कई रिकार्ड भी दर्ज हैं। मौजूदा समय में कोरोना महामारी के चलते देश के कई बड़े ब्लड बैंकों में खून की कमी दिखाई दे रही थी और बड़ी संख्या में ब्लड बैंक की तरफ से लिखित रूप में रक्तदान करने का डेरा सच्चा सौदा को आग्रह पत्र भेजा गया है।
ब्लड बैंक की तरफ से आये आग्रह पत्रों को ध्यान में रखते हुए डेरा सच्चा सौदा ने बड़े स्तर पर खूनदान करने का फैसला किया है। थैलेसीमिया से पीड़ित बच्चों को सबसे ज्यादा खून की जरूरत रहती है। इस जरूरत को देखते हुए डेरा सच्चा सौदा इन्सानियत के भले की अपनी परम्परा को आगे बढ़ाते हुए आज बड़े स्तर पर देश के साथ-साथ विदेशों में भी रक्तदान करने जा रहा है।  (Blood Donation) चेयरपर्सन विपासना इन्सां ने बताया कि राजस्थान, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ सहित कई अन्य राज्यों में डेरा सच्चा सौदा के श्रद्धालु रक्तदान करेंगे। इसके साथ ही कनाडा, आॅस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड सहित कई देशों में भी रक्तदान किया जाएगा। उन्होंने यह भी बताया कि कोरोना महामारी में सुरक्षा मानकों का भी पूर्ण रूप से ध्यान में रखा जाएगा। जिन भी राज्यों व जिलों के ब्लड बैंक में डेरा सच्चा सौदा के श्रद्धालु रक्तदान करने के लिए जाएंगे, वे मास्क पहनने के साथ-साथ सेनेटाइजन भी साथ लेकर जाएंगे और सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए रक्तदान करेंगे।

अनेकों ब्लड डोनेशन रिकार्ड डेरा सच्चा सौदा कर नाम

अभी तक डेरा सच्चा सौदा के नाम सभी से ज्यादा खूनदान करने में 5 विश्व रिकार्ड दर्ज है, जिसमे 3 गिनीज रिकार्ड, 1 लिम्का और 1 एशिया रिकार्ड दर्ज है’। इसके साथ ही अभी तक 154 से ज्यादा खूनदान कैम्प लगाते हुए 5 लाख 24 हजार 341 यूनिट खून दान किया जा चुका है।

थैलेसीमिया पीड़ितों के लिए हमेशा आगे रहा डेरा सच्चा सौदा

थैलेसीमिया से पीड़ित बच्चों के लिए हमेशा ही डेरा सच्चा सौदा आगे रहा है। यह पहला मौका नहीं है जब थैलेसीमिया से पीड़ित बच्चों के लिए रक्तदान किया जा रहा है। इससे पहले भी सैकड़ों बार डेरा सच्चा सौदा की तरफ से थैलेसीमिया ग्रस्त बच्चों के लिए रक्त्रदान किया गया है। परंतु मौजूदा समय में कोरोना महामारी में जब कोई रक्तदान करने के लिए आगे नहीं आ रहा है तो ऐसे मौके पर डेरा सच्चा सौदा खून दान करने के लिए आगे आया है।

‘एक मुस्कान’ डेरा सच्चा सौदा की खास कैम्पेन

थैलेसीमिया से पीड़ित बच्चों को खून की कमी न आए। इसके लिए डेरा सच्चा सौदा की तरफ से एक खास कैम्पेन ‘एक मुस्कान’ शुरू की गई है। इसके तहत विश्व थैलेसीमिया दिवस के उपलक्ष्य में रक्तदान करते हुए थैलेसीमिया से पीड़ित बच्चों के लिए रक्त उपलब्ध करवाया जाएगा। वहीं भविष्य में भी जब-जब खून की जरूरत पड़ेगी तो डेरा सच्चा सौदा हमेशा आगे आकर इस ‘एक मुस्कान’ के तहत रक्तदान को तैयार रहेगा।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।