इन एग्जाम्स से मिलेगी करियर को एक नई दिशा

0
These exams will get a new direction for careers

ऐसी कई प्रोफेशनल ट्रेनिंग्स और गवर्नमेंट एग्जाम्स हैं, जिनमें अपियर होकर आप एक सेक्योर जॉब पा सकते हैं। यह आप्शन उन स्टूडेंट्स के लिए परफेक्ट है, जिनका गोल इससे मैच करता है या फिर जो स्कूल के बाद सीधे जॉब करना चाहते हैं। जानते हैं ऐसे ही कुछ आप्शन्स के बारे में।

  • नेशनल डिफेंस एकेडमी (एनडीए)

डिफेंस सेक्टर में जाने के लिए स्टूडेंट्स को एनडीए एग्जाम क्लियर करना होगा। यह एग्जाम साल में दो बार होता है, जिसमें रिटेन टेस्ट और एसएसबी इंटरव्यू शामिल है। एग्जाम क्वॉलिफाई करने के बाद स्टूडेंट्स आर्मी, एयरफोर्स या नेवी में से कोई एक ब्रांच चुन सकते हैं। हालांकि एयरफोर्स और नेवी ब्रांच सिर्फ उन स्टूडेंट्स को मिलती है, जिनके पास इंटर में पीसीएम ग्रुप होता है। वहीं आर्मी ब्रांच सभी स्ट्रीम के स्टूडेंट्स ले सकते हैं। इसके अलावा स्टूडेंट्स टेक्निकल इंट्री स्कीम, नेवी आर्टिफिसर एपरेंटिस और एयरफोर्स एक्स व वाई ग्रुप के जरिए भी डिफेंस में जा सकते हैं।

  • मर्चेंट नेवी
    कमर्शियल पर्पज से नेवी में जाने के लिए मर्चेंट नेवी सबसे बेस्ट आॅप्शन है। आप अलग-अलग इंस्टीट्यूट्स से मर्चेंट नेवी का कोर्स कर सकते हैं। इसके लिए भी इंटर में पीसीएम ग्रुप होना जरूरी है।
  • कमर्शियल पायलट ट्रेनिंग

पायलट बनने के लिए स्टूडेंट्स के पास इंटर में पीसीएम ग्रुप होना जरूरी है। ऐसे स्टूडेंट्स फ्लाइंग ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट्स से पायलट ट्रेनिंग ले सकते हैं, जिसके बाद उन्हें डीजीसीए द्वारा कंडक्ट कराया जाने वाला पायलट लाइसेंसिंग एग्जाम देना होता है। इसे पास करने पर उन्हें फ्लाइंग लाइसेंस दिया जाता है।

  • कंबाइन्ड हायर सेकेंड्री लेवल एग्जाम (सीएचएसएल)

इंटर के बाद सेंट्रल गवर्नमेंट जॉब करनी हो, तो सीएचएसएल एग्जाम में अपियर हों। यह एग्जाम किसी भी स्ट्रीम के स्टूडेंट्स दे सकते हैं। इसके जरिए लोअर डिवीजन क्लर्क, पोस्टल असिस्टेंट, कोर्ट क्लर्क व डीईओ जैसी पोस्ट्स फिल की जाती हैं। यह एग्जाम दो पार्ट्स में होता है, जिसमें रिटेन टेस्ट व टाइपिंग/कंप्यूटर स्किल टेस्ट शामिल है।

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।