Punjab: भारी बारिश से गिरी मकान की छत, दो मासूम बहन-भाई दबे

0
house collapsed

हादसे में बहन की मौत, भाई गंभीर घायल, अस्पताल में भर्ती

अबोहर(सचकहूँ/सुधीर अरोड़ा)। पिछले दिनों दो दिनों में हुई भारी बारिश लोगों के लिए आफत लेकर आई है। कई जगह घरों की छतें गिर जाने से लोगों को भारी आर्थिक नुक्सान पहुंचा है तथा कई लोग घायल भी हुए हैं। आज एक दर्दनाक हादसा उस समय हुआ जब स्थानीय अजीत नगर में अचानक एक घर की छत गिर गई और उसमें दो मासूम बहन-भाई दब गए। जिसमें बहन की मौत हो गई तथा भाई गंभीर रूप से घायल हो गया। जिससे अजीतनगर में शोक की लहर दौड़ गई और घर में सांत्वना देने वालों की भीड़ जमा हो गई।

जानकारी अनुसार स्थानीय अजीत नगर में आज सुबह अजीत नगर निवासी सुनील डोडा के सुपुत्र वंश डोडा (7 वर्ष) व पुत्री रजनी डोडा (5 वर्ष) दोनो भाई बहन सुबह और चप्पल लेने के लिए कमरे में गए। इतने में बरसात से कमजोर हुई छत भरभरा कर नीचे गिर गई और दोनों भाई-बहन उसमें दब गए।

चीख-पुकार सुनने के बाद आस-पास के लोगों ने उन्हें मलबे में से बाहर निकाला। लेकिन मासूम रजनी की मौके पर ही मौत हो गई जबकि वंश डोडा गंभीर रूप से घायल गया, जिसे लोगों ने उपचार के लिए स्थानीय सरकारी अस्पताल में भर्ती करवाया गया। हादसे का दु:खद पहलू यह है कि सुनील डोडा की आर्थिक हालत इतनी कमजोर है कि डॉक्टरों द्वारा उसके बच्चे को रैफर किये जाने पर उसके पास इतने भी पैसे नहीं थे वह उसे कहीं बाहर ले जा सके।

बच्ची की मौत के बाद गहरे सदमे में परिवार

मौके पर मौजूद सरपंच बाबू राम व पूर्व सरपंच सोनू ने बताया कि सुनील डोडा मेहनत मजदूरी कर अपनी परिवार पत्नी, मां व बच्चों का मुश्किल से गुजारा कर रहा था। बच्ची की मौत के बाद परिवार गहरे सदमे में है। सरकार से मांग की है कि उसके बेटे का सही ढंग से ईलाज करवाए और उसे मुआवजा दे ताकि वह अपना मकान दोबारा बना सके।

एसडीएम दिया सहयोग का आश्वासन

जब इस बात की सूचना एसडीएम जसपाल बराड़ को मिली तो उन्होंने तुरंत प्राईवेट एम्बूलैंस से वंश को बठिण्डा के आदेश अस्पताल पहुंचाया और वहां बातचीत कर उसका ईलाज शुरू करवाया। उन्होंने कहा कि बच्चे के ईलाज में किसी प्रकार की कोई कमी नहीं आने दी जायेगी। इतना ही नहीं उन्होंने बच्ची की मृत्यु पर गहरा शोक प्रकट किया और कहा कि वह हादसे की पूरी रिपोर्ट तैयार कर जिला उपायुक्त के माध्यम से सरकार के पास भेजेंगे ताकि परिवार को उचित मुआवजा मिल सके। उन्होंने कहा कि सुनील कुमार ही नहीं पिछले दिनों जिन परिवारों का भी नुक्सान हुआ है उन सभी की रिपोर्ट तैयार की जा रही है ताकि इन परिवारों को मुआवजा दिलवाया जा सके।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।