दिवाली के बाद होगा किसानों का मसला हल

0
The issue of farmers will be resolved after Diwali

राजनाथ सिंह ने की किसान नेता से फोन पर बात (Farmers Issue)

  • सुरजीत ज्यानी ने निभाई अहम भूमिका, दिल्ली केंद्रीय मंत्रियों के साथ खुद की मीटिंग

सच कहूँ/अश्वनी चावला। चंडीगढ़। केंद्र सरकार दिवाली के बाद किसानों के साथ बातचीत करते हुए (Farmers Issue) सभी मामलों का हल निकालने को तैयार है। इसलिए खुद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने किसान नेता के साथ 20 मिनट से अधिक समय तक फोन पर बातचीत करते हुए इस संबंध में भरोसा दिया है। दिवाली के बाद दिल्ली में रक्षा मंत्री राजनाथ की कोठी में ही किसानों के साथ मीटिंग होगी, जिसमें कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर भी मौजूद रहेंगे।
इसलिए अब लग रहा है कि पंजाब में पिछले डेढ़ महीने से चल रहा किसानों का आंदोलन जल्द ही बातचीत के साथ हल हो सकता है। दिल्ली में किसान नेताओं की मीटिंग पंजाब के पूर्व मंत्री सुरजीत कुमार ज्याणी ने करवाई है। सुरजीत कुमार ज्याणी दिल्ली में किसानों के मामलों का हल निकालने के लिए गए हुए थे और उन्होंने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के साथ ही कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के साथ मीटिंग की है।
दिल्ली में केंद्रीय मंत्रियों के साथ बातचीत करने के बाद सुरजीत कुमार ज्याणी ने बताया कि उनकी अच्छे तरीके से केंद्रीय मंत्रियों के साथ बातचीत हुई है। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने किसान नेता बलबीर राजेवाल ने काफी देर तक फोन पर बातचीत करते हुए मामले का हल निकालने के लिए वायदा तक कर दिया है। रक्षा मंत्री की ओर से खुद किसान नेता को कहा गया है कि वह मीटिंग के लिए दिल्ली में दीवाली के बाद आएं और मीटिंग में हर मुद्दे पर चर्चा करें। बलबीर सिंह राजेवाल की मांग पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इस मीटिंग के लिए न्योता लिखित रूप में देने की बात भी स्वीकार कर ली है। इसके साथ ही राजनाथ सिंह ने भरोसा दिया है कि जल्द ही पंजाब में रेल फिर पटड़ियों पर दौड़ती नजर आएंगी।
सुरजीत कुमार ज्याणी ने बताया कि कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर की ओर से मीटिंग में उनको जानकारी दी कि वह कभी भी किसानों से मीटिंग के लिए पीछे ही नहीं हटे हैं और अब भी वह मीटिंग के लिए तैयार हैं। ज्याणी ने बताया कि दीवाली के बाद किसान संगठनों के नेताओं के साथ बैठक में पंजाब के भाजपा नेता भी मौजूद रहेंगे, जिससे बातचीत को सिरे लगाया जाये।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।