पुरुष नसबंदी का आदेश देने वाली छवि भारद्वाज पर गिरी गाज

0
government has taken a dig at madhya pradesh ias officer chitra bhardwaj - Sach Kahoon News

स्वास्थ्य मंत्रालय से हटाई गई

भोपाल (एजेंसी)। पुरुष नसबंदी का टारगेट पूरा करने में सख्ती बरतने का आॅर्डर देने वाली राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, मध्य प्रदेश की संचालक आईएएस अफसर छवि भारद्वाज पर सरकारी एक्शन हो गया है। उन्हें स्वास्थ्य विभाग से हटा दिया गया है। भारद्वाज को अब मंत्रालय में ओएसडी बनाया गया है। वो इससे पहले कलेक्टर जबलपुर और भोपाल में नगर निगम कमिश्नर रह चुकी हैं। पुरुष नसबंदी का टारगेट हासिल करने के लिए सख्त आदेश देने के बाद उस पर सियायत शुरू हो गई थी। मीडिया में खबर आते ही इस पर राजनीति तेज हो गई थी। उसके बाद स्वास्थ्य मंत्रालय ने ये आदेश वापस ले लिया।

  • प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री तुलसीराम सिलावट ने इस सर्कुलर पर कहा था।
  • किसी कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होगी।
  • प्रदेश में किसी के साथ जोर जबरदस्ती नहीं होगी।
  • केन्द्र सरकार ने सर्कुलर जारी किया है।
  • प्रदेश सरकार पूरे मामले की समीक्षा करने के बाद फैसला लेग।

ये था आदेश

स्वास्थ्य विभाग ने राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण-4 की रिपोर्ट का हवाला देते हुए बताया कि राज्य में वर्ष 2019-20 में सिर्फ 0.5 प्रतिशत पुरुषों ने ही नसबंदी कराई। ये लक्ष्य से बेहद कम है। मप्र के राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन ने राज्य के कमिश्नर, जिला अधिकारियों और मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों के नाम से आदेश जारी किया था। इसमें कहा गया था कि ऐसे सभी पुरुष बहुउद्देश्यीय स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की लिस्ट बनाएं, जिन्होंने इस दौरान एक भी पुरुष की नसबंदी नहीं करवाई या कुछ काम ही नहीं किया। ऐसे स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को ‘‘शून्य कार्य आउटपुट’’ मानकर उन पर काम नहीं तो वेतन नहीं का नियम लागू किया जाएगा। आदेश के तहत इन बहुउद्देश्यीय स्वास्थय कार्यकर्ताओं की सेवा समाप्त करने की बात थी।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।