सरकार की नीतियों के कारण संकट से घिर गया है देश: सोनिया

0
Government Policies

नयी दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार के कुप्रबंधन और गलत नीतियों के कारण देश आज कई तरह के संकट से घिर गया है और चारों तरफ पीड़ा एवं भय का माहौल है और राष्ट्र की सुरक्षा पर खतरे के बादल मंडरा रहे हैं। गांधी ने मंगलवार को यहां पार्टी की सर्वोच्च नीति निर्धारक संस्था कांग्रेस कार्य समिति की वर्चुअल बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि देश आज जिन परिस्थितियों से जूझ रहा है, उन्हें सुखद नहीं कहा जा सकता है। उन्हें एक कहावत ‘दुखद घटनाएं कभी अकेले नहीं आती’ को उद्धृत करते हुए कहा कि देश भयावह आर्थिक संकट,भयंकर महामारी और अब चीन के साथ सीमा पर एक बड़े संकट का सामना कर रहा है।

Congress on China Issue - Sach Kahoon

भाजपा की अगुआई वाली केंद्र सरकार की गलत नीतियां और कुप्रबंधन के कारण देश में आज व्यापक पीड़ा तथा भय का माहौल है और हमारी सुरक्षा तथा भूभागीय अखंडता पर खतरा मंडरा रहा है। उन्होंने कहा कि देश में आर्थिक संकट पहले की तुलना में और गहरा गया है। मोदी सरकार किसी भी सलाह को सुनने को तैयार नहीं है। देश में जो स्थिति पैदा हुई है, उसे देखते हुए इस समय बड़े पैमाने पर सरकारी खजाने से मदद, गरीबों के हाथों में सीधे पैसा पहुंचाने, सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यमों की रक्षा और उनका पोषण करने, मांग को बढ़ाने तथा प्रोत्साहित करने की जरूरत है। सरकार ने स्थिति से निपटने के लिए गंभीर प्रयास करने की बजाय खोखले वित्तीय पैकेज की घोषणा की जो सकल घरेलू उत्पाद का एक प्रतिशत से कम है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।