Breaking News
   प्रधानमंत्री मोदी ने शरद पवार को दी जन्मदिन की बधाई|    नागरिकता बिल पर बवाल के बीच आज अमित शाह से मिलने दिल्ली आएंगे मेघालय के मुख्यमंत्री |   नागरिकता बिल के खिलाफ ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन भी SC में दाखिल करेगा याचिका |   झारखंड चुनाव: तीसरे चरण में सुबह 9 बजे तक 12.89% मतदान।   असम: नागरिकता बिल के विरोध में बवाल, विस्तारा ने रद्द की कई उड़ानें |
Breaking News

मांगें सुनकर बोला विधायक: ऐसी मौतें होती रहती हैं, लोगों ने किया हमला, भागकर बचाई जान

Protest

डीजे युवक की मौत का मामला: पीड़ित परिवार के साथ अस्पताल में धरने पर बैठे थे लोग | Protest

  • लोगों ने विधायक पर भी किया हमला, गाड़ी के शीशे भी तोड़े
  • धरनाकारियों को समझाने पहुंचे थे विधायक काका सुरजीत सिंह
  • विधायक के ड्राइवर ने भी बैक गियर की मदद से बचाई जान

मोगा (सच कहूँ न्यूज)। डीजे संचालक युवक की हत्या के मामले में सिविल अस्पताल में परिवार का (Protest) हाल जानने पहुंचे धर्मकोट के विधायक सुखजीत सिंह काका लोहगढ़ ने लोगों के सामने ही कह दिया कि ऐसी मौतें तो होती रहती हैं। भड़के परिजनों ने विधायक की गाड़ी पर हमला कर दिया और उन्हें थप्पड़ भी मारे। लोगों के गुस्से को देखकर विधायक के ड्राइवर ने गाड़ी रिवर्स भगानी शुरू कर दी। काफी दूरी तक पीछे जाने के बाद विधायक गाड़ी से निकल एक घर में घुस गए। इसी दौरान विधायक के गनमैन ने अपने बचाव के लिए लोगों पर सरकारी राइफल तान दी। सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और लोगों को शांत करवाया।

पीड़ित परिवार कर रहा था ये मांग

  • दरअसल मृतक करन सिंह का परिवार मांग कर रहा था कि आरोपियों की गिरफ्तारी की जाए।
  • पीड़ित परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी व 25 लाख रुपये का मुआवजा दिया जाए।
  • सोमवार सुबह करीब 11 बजे परिवार से मिलने पहुंचे विधायक लोहगढ़ ने जब यह मांगें सुनी।
  • अस्पताल में ही लोगों के सामने कह दिया कि ऐसी मौतें तो होती रहती है,
  • इसका मतलब यह नहीं कि इस कदर मांगे रख दी जाएं।
  • यह सुनते ही पीड़ित परिवार व उनके समर्थकों का गुस्सा काबू से बाहर हो गया।
  • इसके बाद लोगों ने सिविल अस्पताल में ही विधायक की गाड़ी पर हमला कर दिया।
  • कुछ लोगों ने विधायक पर भी हाथ उठाया।
  • लोगों के गुस्से को देखकर विधायक के ड्राइवर ने गाड़ी रिवर्स भगानी शुरू कर दी।
  • इस दौरान लोगों ने कार का पीछा किया।
  • काफी दूरी तक पीछे जाने के बाद विधायक गाड़ी से बाहर निकले।
  • अस्पताल के पीछे के गेट से बाहर निकलकर एक घर में घुस गए।
  • इसी दौरान विधायक के गनमैन ने अपने बचाव में लोगों पर सरकारी राइफल तान दी।

छावनी में तबदील हुआ सिविल अस्पताल

Protest 2

 

सूचना मिलते ही एसपी एच रतन सिंह बराड़ भारी पुलिस फोर्स के साथ सिविल अस्पताल में पहुंचे और देखते ही देखते सिविल अस्पताल पुलिस छावनी में तबदील हो गया। वहीं दूसरी ओर गुस्साए परिजनों ने जत्थेबंदियो के साथ मिलकर सिविल अस्पताल में धरना लगा दिया। कुछ समय रोष प्रदर्शन करने के बाद परिवार जत्थेबंदियो के साथ एसएसपी दफ्तर चला गया और वहां जाकर मुख्यमंत्री के नाम से तहसीलदार लक्ष्य कुमार को एक ज्ञापन सौंपा। जिसमें पीड़ित परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी और 25 लाख रुपये देने की मांग रखी गई। खबर लिखे जाने तक पीड़ित परिवार व समर्थक जत्थेबंदिया एसएसपी कार्यालय के सामने धरने पर बैठी थी। वहीं उनके समर्थन में पूर्व कृषि मंत्री तोता सिंह भी मौके पर पहुंच चुके थे।

हमला करने वालों पर होगी कार्रवाई | Protest

एसपी (एच) रतन सिंह बराड़ का कहना है कि सिविल अस्पताल में विधायक की गाड़ी पर हमला करने का वीडियो उन्होंने सोशल मीडिया पर देखा है। जैसे ही विधायक पुलिस को हमलावरों के खिलाफ लिखित शिकायत देते हैं तो पुलिस द्वारा तुरंत उक्त मामले में बनती कानूनी कार्रवाई की जाएगी। इसके अलावा डीजे संचालक करन सिंह के हत्यारों को पकड़ने के लिए पुलिस टीमों द्वारा छापेमारी जारी है और जल्द ही सभी आरोपी पुलिस की गिरफ्त में होंगे।

एक मुसीबत टली नही कि दूसरी में फंसे विधायक

धर्मकोट के विधायक सुखजीत सिंह काका लोहगढ़ पर धर्मकोट निवासी जसवीर सिंह आरोप लगा चुका है कि दशकों पहले उनके नाम हो चुकी जमीन पर विधायक लोहगढ़ कब्जा करना चाहता है और इसी मंशा से विधायक द्वारा भेजे गए कुछ लोगों ने उसकी जमीन पर चल रहे निर्माण कार्य में विघ्न डाला और सामान की तोड़फोड़ भी की।

जसवीर सिंह का दावा है कि उसके पास उक्त जमीन की रजिस्ट्री के पुख्ता दस्तावेज भी मौजूद हैं, लेकिन दूसरी ओर विधायक लोहगढ़ का कहना है कि जमीन उनके रिश्तेदारों की है, जिसकी पॉवर आफ अटार्नी उनके पास है। इस बात के उनके पास पुख्ता दस्तावेज भी हैं। मामले में अभी विधायक लोहगढ़ जमीन कब्जाने जैसे गंभीर आरोपों से बाहर नहीं निकल पाए थे कि सोमवार को सिविल अस्पताल में उनके एक बयान ने उनके लिए नई मुसीबत खड़ी कर दी।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करे।

 

 

लोकप्रिय न्यूज़

To Top