दक्षिण भारत में आतंकी कर सकते हैं हमला !

0

गुजरात के सर क्रीक में लावारिस नावें मिलने के बाद Alert जारी

पुणे (एजेंसी)। सेना के एक वरिष्ठ कमांडर के अनुसार दक्षिण भारत में बड़े आतंकी हमले का खतरा है। पाकिस्तान से लगे गुजरात के सरक्रीक क्षेत्र में कुछ नौकाएं मिलीं हैं जिससे दक्षिणी प्रायद्वीप में पाकिस्तानी घुसपैठ की पुष्टि हो गई है। इसके चलते तमिलनाडु, केरल, आंध्र प्रदेश व कर्नाटक में हाई अलर्ट है। सेना के दक्षिणी कमांड में लेफ्टिनेंट जनरल (जीओसी इन सी) एसके सैनी ने सोमवार को बताया कि दक्षिण भारत में आतंकी हमले की साजिश की कई खुफिया जानकारियां मिल चुकी हैं। खतरे को बढ़ता देख भारतीय सेना ने सरक्रीक क्षेत्र में भी चौकसी बढ़ा दी है।

उन्होंने बताया कि पाकिस्तान की बार्डर एक्शन टीम (बैट) ने अगस्त के पहले हफ्ते में नियंत्रण रेखा पार करके जम्मू-कश्मीर के केरन सेक्टर में घुसपैठ करने की नाकाम कोशिश की थी। तब भारतीय सेना ने पाकिस्तानी सेना के पांच घुसपैठियों को मार गिराया था। सेना की ओर से जारी वीडियो में हथियार से लैस पाकिस्तानी सेना के जवानों के शवों को देखा जा सकता है।

नौसेना अगस्त से ही हाई अलर्ट पर

सरक्रीक मार्ग का इस्तेमाल करते हुए देश में घुसपैठ करने की पुख्ता खुफिया जानकारी के आधार पर नौसेना ने अगस्त में ही पश्चिमी तट पर सुरक्षा बढ़ा दी थी। नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह ने भी पुणे में ही बताया था कि पाकिस्तानी आतंकी संगठन जैश-ए-मुहम्मद के आतंकियों को भारत पर पानी के अंदर से हमला करने की ट्रेनिंग दी गई है।

इसके बाद ही अडानी पोर्ट ने एक एडवाइजरी जारी करके अपने एजेंटों और जहाजों के साझीदारों को अतिरिक्त सावधानी बरतने की हिदायत दी है। साथ ही उनके मरीन कंट्रोल स्टेशनों और पोर्ट आपरेशन सेंटरों के पास कोई भी संदिग्ध गतिविधि हो तो वह इसकी तुरंत जानकारी दें।

केरल में हवाई अड्डों पर कड़ी सुरक्षा

केरल पुलिस के प्रमुख लोकनाथ बेहेरा ने सभी जिलों के पुलिस प्रमुखों को हाई अलर्ट रहने को कहा है। सभी बस स्टेशनों, रेलवे स्टेशनों, हवाई अड्डों और भीड़भाड़ वाले इलाकों में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। वहीं चेन्नई में रक्षा विभाग के एक प्रवक्ता ने बताया कि सेना के दक्षिणी कमांड में गुजरात के भी कुछ हिस्से शामिल हैं। इसका मतलब इसमें पूरा दक्षिणी प्रायद्वीप और गुजरात के कुछ हिस्से भी आते हैं।

तिरुमाला व श्रीहरिकोटा में चौकसी

आंध्र प्रदेश में सुरक्षा बलों ने 974 किलोमीटर लंबे समुद्र तटीय इलाकों में कड़े सुरक्षा प्रबंध किए हैं। प्रमुख स्थानों पर प्रदेश के विशेष सुरक्षा बल को तैनात किया गया है। आतंकी हमले के खतरे को देखते हुए विशेष तौर पर भगवान वेंकटेश्वर के निवास तिरुमाला और श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन स्पेस सेंटर की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करे