पंजाब

पाक पर हवाई हमले के बाद पंजाब में तनाव, बार्डर एरिया में हाई अलर्ट

High Alert, Punjab

केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह से बात करने के बाद तुरंत कैप्टन अमरिंदर सिंह ने हाई लेवल की मीटिंग बुलाई

  • गृहसचिव व दोनों डीजीपी सहित सिविल प्रशासन के अधिकारी भी रहे शामिल’

चंडीगढ़ (सच कहूँ न्यूज)।

पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीरी इलाके में भारतीय वायुसेना की तरफ से किए गए हवाई हमले के बाद पंजाब में भी माहौल तनावपूर्ण हो चला है। प्रदेश के सीमावर्ती जिलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है, जिसका ऐलान गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मिलने और अपने अधिकारियों के साथ चर्चा करने के बाद मुख्यमंत्री

बार्डर एरिया के कुछ गांव करवाए जाएंगे खाली, कैप्टआज न खुद करेंगे दौरा

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने खुद किया है। यहां से लोगों को सुरक्षित जगह पहुंचाने के आदेश जारी किए हैं। वहीं इससे पहले कैप्टन ने इस हमले की एक ट्वीट के जरिये तारीफ की थी। अब सीएम ने तनाव के हालात से निपटने संबंधी ताजा तैयारियों, सुरक्षा प्रबंधों की जानकारी मांगी है, वहीं बुधवार को वह खुद संबंधित क्षेत्र का दौरा करेंगे।

आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मंगलवार को उच्च स्तरीय कानून और व्यवस्था की समीक्षा बैठक के बाद कहा कि कि बिना किसी घबराहट या हड़बड़ाहट के सीमावर्ती इलाकों से लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जाए। संबंधित जिलों के डीसी और एसएसपी आमजन की जान-माल की सुरक्षा यकीनी बनाएं। इसी के साथ उन्होंने कहा कि वह खुद बुधवार को पठानकोट से फिरोजपुर तक सड़क मार्ग से दौरा करेंगे। गुरदासपुर जिले में सीमा के पास के पांच किलोमीटर क्षेत्र में पड़ते गांवों की सूची मांगी गई है। समझा जाता है कि जिला प्रशासन ने यह कदम आपातकाल में गांव खाली करवाने की तैयारी के उद्देश्य से उठाया है।

बताया जाता है कि इसी तरह की तैयारी अन्य सीमावर्ती जिलों में की जा रही है। ताजा तरीन हालात के बारे में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से बात करने से मुख्यमंत्री ने सर्जिकल स्ट्राइक को अपना पूरा समर्थन दिया। फिर उन्होंने अपने करीबियों के साथ विशेष की। इसमें मुख्यमंत्री के निजी सचिव सुरेश कुमार, मुख्य सचिव करण अवतार सिंह, गृह सचिव एनएस कलसी, डीजीपी दिनकर गुप्ता, डीजीपी इंटेलीजेंस वीके भांवरा समेत पुलिस और सिविल प्रशासन के तमाम आला अफसरान शामिल रहे।

नाकाबंदी के बाद कड़ी सुरक्षा

गुरदासपुर, पठानकोट, फिरोजपुर और फाजिल्का के सीमावर्ती क्षेत्रों में कड़ी निगरानी रखी जा रही है। सभी सड़कों पर नाके लगाए गए हैं और वाहनों को कड़ी जांच के बाद ही जाने दिया जा रहा है। राज्य में संवेदनशील और सामरिक महत्व के जगहों की सुरक्षा भी पुख्ता की गई है। इसके अलावा बार्डर के साथ लगते गांवों में भी सुरक्षा व्यवस्था जांची जा रही है।

कार्रवाई से खुश सिद्धू व कैप्टन, सेना को सलाम

भारतीय वायुसेना द्वारा पाकिस्तान में किए गए सर्जिकल स्ट्राइक किए जाने से पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के साथ-साथ कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू भी बहुत खुश हैं। दोनों नेताओं ने इस कार्रवाई के लिए सेना को सलाम किया है। सिद्धू ने कहा है, आतंकियों का विनाश अनिवार्य है, भारतीय वायुसेना की जय हो। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने वायुसेना द्वारा की गई कार्रवाई पर खुशी जताई। उन्होंने भारतीय वायुसेना पर गर्व पर जताया है। अमरिंदर सिंह ने ट्वीट कर कहा कि एयरफोर्स ने यह महान कार्य किया है।

पाकिस्तान पर यह कार्रवाई जरूरी थी। इस कार्रवाई को मेरा पूरा समर्थन है। उन्होंने ट्वीट में लिखा है, भारतीय वायुसेना द्वारा पाकिस्तान और उसके द्वारा शरण दिए गए आतंकियों को यह संदेश देना बेहद जरूरी था कि तुम पुलवामा जैसा कृत्य करने के बाद बच नहीं सकते। वायुसेना के जवानों को शाबासी और इस कार्रवाई को मेरा पूरा समर्थन है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

 

लोकप्रिय न्यूज़

To Top

Lok Sabha Election 2019