टीम इंडिया के मजबूत स्तंभ रोहित शर्मा

0
Team India strong column Rohit Sharma

क्रिकेट विश्व कप में जहां टीम इंडिया के शानदार प्रदर्शन का सिलसिला जारी है, वहीं टीम इंडिया के एक खिलाड़ी ने अपने जबरदस्त प्रदर्शन से ऐसा कारनामा कर दिखाया है, जिसके चलते पूरी दुनिया उनके इस बेहतरीन प्रदर्शन की कायल हो गई है। जी हां, हम बात कर रहे हैं टीम इंडिया के हिटमैन के नाम से विख्यात भारतीय क्रिकेट टीम के उप-कप्तान रोहित शर्मा की, जिन्होंने विश्व कप के 44वें मुकाबले में 6 जुलाई को श्रीलंका के खिलाफ शतक जड़कर 103 रनों की शानदार पारी खेलते हुए एक ही विश्व कप में पांच शतक लगाने का विश्व रिकॉर्ड अपने नाम कर विश्व के तमाम दिग्गज क्रिकेटरों को पीछे छोड़ दिया है। उनसे पहले यह रिकॉर्ड चार शतकों के साथ बांग्लादेश के कुमार संगकारा के नाम दर्ज था।

पांच शतकों के रिकॉर्ड के साथ रोहित के नाम एक और विश्व रिकॉर्ड दर्ज हुआ किसी एक विश्व कप में सर्वाधिक मैन आॅफ द मैच अवार्ड जीतने का। श्रीलंका के खिलाफ शानदार शतकीय पारी के बाद उन्हें विश्व कप के इतिहास में एक ही विश्व कप में पांचवा मैन आॅफ द मैच अवार्ड मिला और इसी के साथ अपने बल्ले से रनों की बरसात करते हुए धुआंधार पारियों की बदौलत रोहित ने बखूबी साबित कर दिया कि उन्हें यूं ही टीम इंडिया का हिटमैन नहीं कहा जाता। विश्व कप मुकाबलों के दौरान कप्तान विराट कोहली भी स्वीकार चुके हैं कि रोहित इस समय दुनिया के सर्वश्रेष्ठ वनडे क्रिकेटर हैं।

हालांकि अगर विश्व कप के इतिहास में अभी तक के सर्वाधिक मैन आॅफ द मैच अवार्ड जीतने के रिकॉर्ड की बात करें तो सचिन तेंदुलकर और आॅस्ट्रेलिया के महान गेंदबाज ग्लेन मैक्ग्राथ रोहित से आगे हैं लेकिन उन्होंने किसी एक विश्व कप में यह रिकॉर्ड कायम नहीं किया बल्कि सचिन ने विश्व कप की कुल 44 पारियों में 9 मैन आॅफ द मैच अवार्ड जबकि ग्लेन मैक्ग्राथ ने 6 अवार्ड जीते और ये दोनों ही क्रिकेटर काफी समय पहले ही क्रिकेट से सन्यास ले चुके हैं। विवियन रिचर्ड्स, ग्राहम गूच, सनथ जयसूर्या, मार्क वॉ, लांस क्लूजनर, एबी डीविलिअर्स जैसे दिग्गज क्रिकेटरों के नाम पांच-पांच मैन आॅफ द मैच अवार्ड दर्ज हैं और इन्हीं की बराबरी करते हुए रोहित ने यह कीर्तिमान सिर्फ 16 पारियों और अपने दूसरे विश्व कप में ही हासिल कर लिया है जबकि इस विश्व कप के कुछ मैच अभी बाकी हैं। उम्मीद जताई जा रही है कि वे आने वाले समय में इन तमाम दिग्गज क्रिकेटरों को पीछे छोड़ते हुए सचिन की बराबरी कर लेंगे। वैसे रोहित ने विश्व कप में सर्वाधिक शतक बनाने के मामले में सचिन तेंदुलकर ने 6 शतक के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है।

वन-डे क्रिकेट में रोहित अब तक 27 शतक जड़ चुके हैं और 2017 में खेली गई चैम्पियंस ट्राफी के बाद से ही वे अब तक 17 शतक लगाकर विराट के 15 शतक के आंकड़े से आगे निकल गए हैं। हालांकि रनों के मामले में वे अभी विराट से थोड़ा पीछे हैं। श्रीलंका के खिलाफ खेले गए मैच में विश्व कप में अपना पांचवां शतक जड़ने के बाद विश्व कप में लीग स्टेज के मुकाबलों के समाप्त होने के पश्चात् आईसीसी द्वारा जारी रैंकिंग में भी रोहित काफी ऊपर पहुंच गए हैं। वन-डे में टॉप बल्लेबाजों की सूची में विश्व कप की पांच पारियों में 5 अर्धशतक लगाने वाले टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली अभी भी रैंकिंग में 891 अंकों के साथ पहले पायदान पर मौजूद हैं, वहीं टीम इंडिया के उप-कप्तान रोहित शर्मा दूसरे पायदान पर पहुंच गए हैं और रैंकिंग में अंकों के मामले में 885 अंकों के साथ वे विराट कोहली के बेहद नजदीक पहुंच गए हैं।

30 अप्रैल 1987 को महाराष्ट्र के नागपुर में जन्मे रोहित गुरूनाथ शर्मा ने कभी स्पिन गेंदबाजी से अपने क्रिकेट कैरियर की शुरूआत की थी और वे कब मध्यम क्रम बल्लेबाजी से टीम इंडिया के एक सफल और भरोसेमंद ओपनर बन गए, पता ही नहीं चला। रोहित शर्मा एकदिवसीय क्रिकेट के इतिहास में सर्वाधिक दोहरे शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज हैं और क्रिकेट के इतिहास में पहले ऐसे बल्लेबाज भी हैं, जो वनडे क्रिकेट में तीन दोहरे शतक और अंतर्राष्ट्रीय 20-20 में चार शतक लगा चुके हैं। एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में एक मैच में सर्वाधिक 33 चौके लगाने वाले भी वह पहले खिलाड़ी हैं।

इसके अलावा एक वनडे में सर्वाधिक 16 छक्के लगाने का रिकॉर्ड भी उन्हीं के नाम है। वनडे क्रिकेट में अभी तक तीन दोहरे शतक लगा चुके रोहित आईपीएल के सफलतम खिलाड़ी माने जाते हैं। वह आईपीएल के 188 मैचों में 130.82 के स्ट्राइक रेट के साथ 31.6 की औसत से 4898 रन बना चुके हैं और धोनी तथा गौतम गंभीर के बाद अपनी टीम को आईपीएल खिताब दिलाने वाले तीसरे कप्तान भी हैं। बहरहाल, विभिन्न पारियों में रोहित शर्मा के बेमिसाल प्रदर्शन को देखते हुए यह कहना असंगत नहीं होगा कि वे टीम इंडिया के एक ऐसे बेहद मजबूत स्तंभ हैं, जिनसे हर कोई उम्मीद बांधे है कि इंग्लैंड में खेले जा रहे विश्व कप को भारत की झोली में डालने में उनकी भूमिका बहुत निर्णायक साबित होगी।
योगेश कुमार गोयल

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करे।