हरियाणा

छात्र संगठनों ने निकाली शव यात्रा, फूंका पुतला

Students, Protest, Administration, SFI, Admission, University, Haryana

14 जुलाई को ही हो चुकी है मांग पूरी, रजिस्ट्रार ने दिखाया लेटर, लौटे विद्यार्थी

  • विद्यार्थियों ने प्रशासन के खिलाफ किया प्रदर्शन

सरसा (सच कहूँ न्यूज)। प्रथम सैमेस्टर में री-अपीयर आने वाले विद्यार्थियों को पांचवें सैमेस्टर में दाखिला दिए जाने की मांग को लेकर सोमवार को विद्यार्थियों ने एसएफआई के बैनर तले वीसी का पुतला फूंका तो वहीं एबीवीपी व एचएसए के बैनर तले विद्यार्थियों ने नेशनल कॉलेज की महिला विंग से लेकर यूनिवर्सिटी तक वीसी की शवयात्रा निकाली विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए रोष जताया।

विद्यार्थियों के रोष को देखते हुए रजिस्ट्रार असीम मिगलानी विद्यार्थियों के बीच पहुंचे तथा उन्हें अवगत करवाया कि वे जिस मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं, वह मांग गत 14 जुलाई को ही पूरी हो गई तथा प्रथम सैमेस्टर में री-अपीयर आने वाले विद्यार्थियों को पांचवें सैमेस्टर में दाखिला दिया जा रहा है।

इसके बाद विद्यार्थी शांत हुए तथा वापस लौट गए। सोमवार सुबह करीब 10:30 बजे एसएफआई की रीतू, शहनवाज, खुशबू, इंदू, अमृतपाल आदि के नेतृत्व में विद्यार्थी विश्वविद्यालय के गेट के समक्ष उपस्थित हुए। विद्यार्थियों ने यहां पर विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए वीसी का पुतला फूंका।

वीसी की निकाली शव यात्रा

वहीं नेशनल कॉलेज की महिला विंग के समक्ष एबीवीपी व एचएसए छात्र संगठनों के बैनर तले विद्यार्थी एकत्रित हुए। एबीवीपी नेत्री गीत व एचएसए नेता प्रवीण अत्री के नेतृत्व में पूजा, मीनाक्षी, अलका, प्रवीण आदि विद्यार्थियों ने कॉलेज से लेकर विश्वविद्यालय तक पैदल शवयात्रा निकाली।

विद्यार्थी प्रथम सैमेस्टर में री-अपीयर के विद्यार्थियों को पांचवें सैमेस्टर में दाखिले की मांग को लेकर विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए बाईपास स्थित विश्वविद्यालय के गेट पर पहुंचे।

विद्यार्थियों के रोष को देखते हुए सिक्योरिटी गार्डस ने विश्वविद्यालय के गेट बंद कर दिए तथा विश्वविद्यालय प्रशासन को सूचना दी। इसके बाद उन्होंने गेट खोले। इसके बाद विद्यार्थियों ने विश्वविद्यालय के अंदर पहुंच कर प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए अपना रोष जाहिर किया।

वहीं विद्यार्थियों के रोष प्रदर्शन को देखते हुए रजिस्ट्रार असीम मिगलानी यहां पहुंचे तथा उन्होंने विद्यार्थियों को लैटर दिखाया तथा बताया कि जो मांग वे विश्वविद्यालय प्रशासन से कर रहे हैं, वह 14 जुलाई को पूरी हो चुकी है। अब विद्यार्थियों को दाखिले दिए जाएंगे। इसके बाद विद्यार्थी शांत हुए तथा वापिस लौट गए।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top

Lok Sabha Election 2019