ऑनलाइन शिक्षा व माता-पिता के सहयोग से घर में पढ़ाई शुरू

0
Online Education

शिक्षा विभाग ने जारी किए थे आदेश

भिवानी (सच कहूँ/इन्द्रवेश दुहन)। शिक्षा विभाग हरियाणा ने कोविड महामारी के चलते स्कूल न खुलने के कारण बच्चों को होने वाली पढ़ाई बाधित न हो, इसके लिए अध्यापकों को ई-लर्निंग के आदेश जारी कर दिए हैं। शिक्षा विभाग द्वारा जारी किए गए आदेशों में अब अध्यापक व्हाट्सअप, फोन व अन्य माध्यम से सुबह साढ़े 9 बजे से साढ़े 12 बजे तक बच्चों की कक्षाएं लेंगे। इसके अलावा शिक्षा विभाग जल्द ही ई-लर्निंग की वीडियो, आॅडियो के लिए प्लेटफॉर्म भी उपलब्ध करवाएगा। इसमें उत्कृष्ट सोसायटी की भी मदद ली जाएगी। वहीं सरकारी स्कूल के अलावा प्राईवेट स्कूल अपना ई-लर्निंग प्रोग्राम लगभग एक सप्ताह से शुरू किया हुआ है।

विभिन्न शैक्षणिक ऐप का सहारा ले रहे छात्र और अध्यापक

छात्रों की पढ़ाई बाधित न हो, इसको लेकर गणित अध्यापक सोमबीर ने बताया कि उन्होंने अपने कक्षा को पढ़ाने के लिए व्हाट्सअप गु्रप बनाया हुआ है, जिस पर उन्होंने अपना लैशन प्लान डालना शुरू कर दिया हैं। इस दौरान पढ़ाई में आने वाली समस्याओं को छात्र इस व्हाट्सअप गु्रप में लिखकर हल प्राप्त कर लेते हैं तथा अधिक आवश्यकता होने पर फोन से भी छात्र-छात्राओं की मदद की जा रही है। उन्होंने कहा कि वे वी-रिकॉर्डर ऐप के माध्यम से पढ़ा रहे हैं। मोबाईल की स्क्रीन पर वे इस ऐप के माध्यम से जो भी लिखते व बोलते हैं, उसकी वीडियो बन जाती है, जो वे व्हाट्सअप ग्रुप में डालकर बच्चों को पढ़ा पाने में सफल हो पा रहे हैं।

इसके अलावा विभिन्न प्राईवेट स्कूलों ने जूम ऐप, एजुकेशन डॉक्टर ऐप, व्हाट्सअप, यू-टयूब लिंक आदि के माध्यम से अपने नए सत्र का शैक्षणिक कार्य शुरू कर दिया है। इससे लॉकडाऊन के दौरान छात्र-छात्राओं की पढ़ाई आॅनलाईन माध्यम से शुरू हो गई हैं। भिवानी जिला के 12वीं कक्षा के छात्र रोहित, छठी कक्षा की छात्रा नीतिका व दूसरी कक्षा की छात्रा छवि ने बताया कि वे आॅनलाईन माध्यम से अपनी पढ़ाई कर रहे हैं। उनके अध्यापकों ने उनक माता-पिता का फोन नम्बर व्हाट्सअप में जोड़ा हुआ है। अपने परिजनों के फोन के माध्यम से वे अध्यापकों से पढ़ाई में आने वाली समस्याओं का समाधान पा रहे हैं तथा उन्हें प्रतिदिन एक पाठ पढ़ाया जाता है। इसमें उनके बड़े भाई-बहन व माता-पिता भी सहयोग कर रहे हैं।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।