खेल

श्रीलंका ने जिम्बाब्वे से जीता एकमात्र टेस्ट

Sri Lanka, Win, Test Match, Zimbabwe, Cricket

 चार विकेट से हरा वनडे शृंखला का बदला चुकाया

कोलंबो (एजेंसी)। निरोशन डिकवेला (81) और असेला गुणारत्ने (नाबाद 80) के बेहतरीन अर्धशतकों तथा उनके बीच छठे विकेट के लिए 121 रन की शानदार साझेदारी की बदौलत श्रीलंका ने जिम्बाब्वे को एकमात्र क्रिकेट टेस्ट में मंगलवार को पांचवें दिन चार विकेट से हराकर एकदिवसीय सीरीज की हार का बदला चुका लिया। जिम्बाब्वे ने श्रीलंका से पांच मैचों की वनडे सीरीज 3-2 से जीतकर इतिहास बनाया था और उसने एकमात्र टेस्ट में भी मेजबान टीम को कड़ी चुनौती दी।

जिम्बाब्वे ने श्रीलंका के सामने 388 रन का लक्ष्य रखा था और श्रीलंका ने तीन विकेट पर 170 रन से आगे खेलते हुए छह विकेट पर 391 रन बनाकर मैच जीत लिया। यह मैच टेस्ट इतिहास में रिकार्डों के लिहाज से अभूतपूर्व रहा। इस मैच में चारों पारियों में 300 से लेकर 400 तक का स्कोर बना। टेस्ट इतिहास में इस तरह की उपलब्धि का यह सिर्फ तीसरा मौका है। श्रीलंका ने अपनी जमीन पर सबसे बड़े लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा किया।

 रंगना हेरात को मैन आॅफ द् सीरीज बने

टेस्ट इतिहास में सबसे बड़े लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा करने का यह पांचवां मौका है। असेला गुणारत्ने को मैन आॅफ द् मैच का पुरस्कार मिला। उन्होंने 151 गेंदों में छह चौकों की मदद से नाबाद 80 रन बनाए। गुणारत्ने ने सातवें विकेट की अविजित साझेदारी में दिलरुवान परेरा (नाबाद 29) के साथ 67 रन जोड़े। गुणारत्ने ने पहली पारी में 45 रन भी बनाए थे। उन्होंने इसके अलावा पहली पारी में दो विकेट भी हासिल किए। श्रीलंका ने एक समय अपने पांच विकेट 203 रन पर गंवा दिए थे। तब लगने लगा कि जिम्बाब्वे वनडे सीरीज की तरह एकमात्र टेस्ट में भी उलटफेर कर जाएगा।

लेकिन डिकवेला और गुणारत्ने के अर्धशतकों ने जिम्बाब्वे की उम्मीदों को पूरा नहीं होने दिया। ग्रीम क्रेमर ने 150 रन पर चार विकेट लेकर मैच में नौ विकेट पूरे किए। सीन विलियम्स को 146 रन पर दो विकेट मिले। इस एकमात्र टेस्ट में कुल 11 विकेट लेने वाले श्रीलंका के लेफ्ट आर्म स्पिनर रंगना हेरात को मैन आॅफ द् सीरीज का पुरस्कार मिला।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top