Breaking News
   प्रधानमंत्री मोदी ने शरद पवार को दी जन्मदिन की बधाई|    नागरिकता बिल पर बवाल के बीच आज अमित शाह से मिलने दिल्ली आएंगे मेघालय के मुख्यमंत्री |   नागरिकता बिल के खिलाफ ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन भी SC में दाखिल करेगा याचिका |   झारखंड चुनाव: तीसरे चरण में सुबह 9 बजे तक 12.89% मतदान।   असम: नागरिकता बिल के विरोध में बवाल, विस्तारा ने रद्द की कई उड़ानें |
Breaking News

एसपीजी संशोधन बिल राज्यसभा में पास

SPG amendment bill

केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को साफ किया कि
विशेष संरक्षा ग्रुप (संशोधन) विधेयक प्रधानमंत्री की सुरक्षा को अधिक चाक चौबंद बनाने के लिए लाया गया है

विधेयक का गांधी परिवार की सुरक्षा से कुछ

लेना देना नहीं : अमित शाह (SPG amendment bill )

नई दिल्ली (एजेंसी)। राज्यसभा में मंगलवार को एसपीजी संशोधन बिल पास हो गया। बहस के दौरान केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि हम परिवार का नहीं, परिवारवाद का विरोध कर रहे हैं। अमित शाह ने कहा कि कभी भी सिक्योरिटी स्टेटस सिंबल नहीं हो सकती है। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को साफ किया कि विशेष संरक्षा ग्रुप (संशोधन) विधेयक प्रधानमंत्री की सुरक्षा को अधिक चाक चौबंद बनाने के लिए लाया गया है और इसका गांधी परिवार के सदस्यों की सुरक्षा हटाने से कुछ भी लेना देना नहीं है। शाह ने मंगलवार को इस विधेयक पर राज्यसभा में लगभग दो घंटे की चर्चा के बाद अपने जवाब में कहा कि गांधी परिवार सहित देश के 130 करोड़ लोगों की सुरक्षा की जिम्मेदारी केन्द्र तथा राज्य सरकारों की है और वे इससे पीछे नहीं हटेगी।

  • उनके जवाब के बाद राज्यसभा ने इस विधेयक को ध्वनिमत से पारित कर दिया, जिससे इस पर संसद की मुहर लग गई।
  • सदन में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने गृह मंत्री के जवाब के बाद कहा कि उनकी पार्टी इससे संतुष्ट नहीं है

एसपीजी कवर हटाना उचित नहीं

सिर्फ राजनीतिक बदले की भावना से ही इस कानून में संशोधन किया जा रहा है। पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी और राजीव गाँधी के योगदान से इनकार नहीं किया जा सकता। राजीव गाँधी के परिवार को एसपीजी कवर हटाना उचित नहीं क्योंकि उनकी जान को खतरा है।
-विवेक के. तन्खा, कांग्रेस

देश में सरकार बनने के आधार पर सुरक्षा दिये जाने के मानक तय किये जाते हैं। किस व्यक्ति को कितना खतरा है यह संबंधित व्यक्ति के दल के सत्ता में होने या न होने से तय होता है। वास्तव में सबसे अधिक खतरा तब होता है जब आदमी सत्ता में नहीं होता है। इसलिए सत्ता में नहीं रहने वाले व्यक्ति की सुरक्षा अधिक किये जाने की जरूरत है।
-राम गोपाल यादव, समाजवादी पार्टी

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करे।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top