हिमाचल प्रदेश में हिमपात और बारिश

0
Snow-and-rain

किसानों-बागवानों की मुश्किलें बढ़ीं  (Snow and Rain)

शिमला (एजेंसी)। हिमाचल प्रदेश के ऊंचाई वाले इलाकों में गत 24 घंटों में हिमपात, बारिश और ओलावृष्टि होने से तापमान में गिरावट दर्ज की गई जिससे गर्मी से मामूली राहत मिली है। लेकिन इस दौरान तेज तूफान और ओलावृष्टि होने से किसानों और बागवानों का भारी नुकसान हुआ है। (Snow and Rain) कुल्लू में कोठी और लाहौल स्पीति की केलांग में पांच सेमी बर्फबारी दर्ज की गई और रोहतांग दर्रे सहित, केलांग, सप्तऋषि पहाड़ी पर हल्की से दरम्यानी बर्फबारी हुई। इसकी पुष्टि मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के निदेशक डॉ मनमोहन सिंह ने की।

अप्रैल माह में हो रही इस बेमौसमी बर्फबारी और बारिश ने किसानों की मुश्किलें बढ़ा दी है। कुल्लू और शिमला जिले में सेब की फसल जबकि मैदानी इलाकों में पक्की हुई गेहूं की फसल को भारी नुकसान पहुंचा है। तेज तूफान से लोगों के घरों की छत्तें उड़ गईं और सेब सहित चेरि, पलम, खुमानी को भारी नुकसान पहुंचा है। वहीं किन्नौर और लाहौल स्पीति के लोगों के लिए वरदान साबित हो रही है।

ताजा पश्चिमी विक्षोभ के चलते मौसम विभाग ने राज्य के छह जिलों…

  • चंबा, कांगडा, कुल्लू, मंडी, शिमला और सोलन में अलर्ट जारी किया है।
  • पहाड़ियों में 30 से 40 किमी प्रतिघंटा की तेज हवाओं के साथ आंधी-तूफान और ओलावृष्टि भी हो सकती है।
  • कुछ स्थानों पर गरज के साथ तेज बारिश और बर्फबारी होने की प्रबल संभावना है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।