हरियाणा में डॉक्टरों की भारी कमी : सीएम

0
CM-Manohar-Lal

बोले, जनसंख्या के हिसाब से होने चाहिए 27500 चिकित्सक

(convocation)

संजय मेहरा/सच कहूँ गुरुग्राम। मुख्यमंत्री मनोहर लाल इस बात को माना कि हरियाणा में चिकित्सकों की कमी है। इसलिए यहां चिकित्सा शिक्षा की बहुत आवश्यकता है। विश्व मानकों के अनुसार 1000 जनसंख्या पर एक चिकित्सक होना चाहिए, जो कि नहीं हैं। यह बात उन्होंने यहां एक निजी विश्वविद्यालय के (convocation) दीक्षांत समारोह में कही।मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा की कुल जनसंख्या लगभग 2.75 करोड़ है, इस लिहाज से यहां पर सरकारी अस्पतालों तथा निजी अस्पतालों में कार्यरत चिकित्सकों को मिलाकर 27500 चिकित्सक होने चाहिए।

हरियाणा में वर्तमान में लगभग 13 हजार चिकित्सक ही हैं। प्रदेश में डॉक्टरों की कमी को पूरा करने के लिए वर्तमान भाजपा सरकार ने चाहे पुराने मेडिकल कॉलेजों में सीटें बढ़ाई या नए कॉलेज खोले, जिसके परिणामस्वरूप इस वर्ष मेडिकल की 1710 सीटें हो गई हैं, जबकि पहले सन् 2014 में हर वर्ष 750 सीटें ही होती थी।  साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा कि वे मेडिकल में प्रवेश की सीटें 2500 प्रतिवर्ष तक ले जाना चाहते हैं।

  • दीक्षांत समारोह में डिग्री प्राप्त करने वाले सभी छात्र-छात्राओं को बधाई देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा है।
  • दीक्षांत समारोह विशेष अवसर होता है।
  • जब आप शिक्षण संस्थान को छोड़कर समाज में अपना काम करने को उतरते हैं ।
  • या आगे की उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए जाते हैं।
  • चाहे हम कहीं भी रहे, जिस संस्थान ने हमें योग्य बनाया है, उसे हमेशा याद रखें।
  • जिस संस्थान में पढ़े हैं, उसको भूलना नहीं चाहिए, अपने परिवार और अपने आपको भी नहीं भूलना चाहिए।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।