राजस्थान विधानसभा में उठा चीन में कोरोना वायरस से राजस्थानियों की सुरक्षा का मामला

0
Rajasthan Assembly

यह बीमारी 27 देशों में दस्तक दे चुकी हैं और भारत भी इससे अछूता नहीं रहा है

(Rajasthan Assembly)

जयपुर (सच कहूँ न्यूज)। राजस्थान विधानसभा में आज चीन में कोरोनो वायरस से राजस्थानियों की सुरक्षा करने का मामला उठा। शून्यकाल में स्थगन प्रस्ताव के तहत भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विधायक वासुदेव देवनानी ने यह मामला उठाते हुए राज्य सरकार से मांग की कि चीन में फैले कोरोना वायरस से चीन में एक हजार से अधिक लोग मारे जा चुके है और वहां काम कर रहे राजस्थान के जालोर, किशनगढ, चित्तौड़गढ, मकराना, भीलवाड़ा आदि जगहों के कई लोगों की कोरोना वायरस से सुरक्षा करने संबंधी कदम उठाना चाहिए। उन्होंने कहा कि वायरस के मद्देनजर उन्हें शाकाहारी भोजन उपलब्ध कराया जाना चाहिए। देवनानी ने कहा कि चीन से राजस्थान के कई लोग लौटे हैं और उनकी पूरी स्वास्थ्य जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि वायरस की जांच के लिए पीपीई किट उपलब्ध होने चाहिए जो उपलब्ध नहीं हैं।

  • सरकार को किट उपलब्ध कराना चाहिए ताकि राजस्थान में यह वायरस नहीं फैले।
  • चीन में इस बीमारी से 1016 लोगों की मौत हो चुकी है और इसके 42600 मरीज हो गये है।
  • यह बीमारी 27 देशों में दस्तक दे चुकी हैं और भारत भी इससे अछूता नहीं रहा है।
  • इससे पयर्टन, आईटी सहित अन्य उद्योग प्रभावित हैं।
  • जिससे 14 हजार करोड़ रुपए की हानि की संभावना है।
  • विधायक अशोक लाहोटी ने कहा कि कोरोनो वायरस के प्रति राज्य सरकार को सजग रहने की जरुरत है।

राजस्थान: बच्चों की मौत के मामले को लेकर भाजपा सदस्यों ने वेल में की नारेबाजी

जयपुर (सच कहूँ न्यूज)। राजस्थान विधानसभा में विपक्ष भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सदस्यों ने आज प्रदेश के सरकारी अस्पतालों में बच्चों की मौत के मामले को लेकर आज सदन के वेल में आकर नारेबाजी की। प्रश्नकाल में विधायक मदन दिलावर के कोटा के जेके लोन अस्पताल में मौत के संबंध में पूछे गये प्रश्न का चिकित्सा मंत्री डा रघु शर्मा के जवाब देते हुए पिछले पांच साल में हुई मौतों का जिक्र करते ही भाजपा के सदस्य खड़े हो गये और जोर जोर से बोलने लगे जिससे सदन में शोरगुल शुरु हो गया।

इस दौरान सत्ता पक्ष से एक सदस्य उठकर एक कागज दिखाते हुए विपक्ष की तरफ आये और भाजपा विधायक वासुदेव देवनानी को थमा दिया, जिसका विपक्षी सदस्यों ने विरोध किया। बाद में इस कागज को श्री देवनानी ने फाड़कर फेंक दिया। इस बीच अध्यक्ष डा सी पी जोशी ने अगला प्रश्न पुकार लिया और विपक्ष के सदस्य वेल में आ गये और नारेबाजी करने लगे। सदस्य शर्म करो, शर्म करो, चिकित्सा मंत्री हाय हाय, बच्चों की हत्यारी सरकारी निकम्मी हैं के नारे लगाये। सदन में करीब ग्यारह बजकर 51 मिनट पर शोरगुल शुरु हुआ जो बारह बजे प्रश्नकाल समाप्त होने पर विपक्षी सदस्यों के अपनी जगह पर आ जाने से थम गया।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।