पंजाब

चीफ इंजीनियर को रिवर्ट किए जाने पर भड़का एससी समाज

SC's Society, Flares, Chief Engineer Reverted, Punjab

एससी समाज के संगठनों ने फूंका पॉवरकॉम के चेयरमैन का पुतला

पटियाला(खुशवीर सिंह तूर)।

अनुसूचित जाति के साथ सबंधित पॉवरकॉम के चीफ इंजीनियर हरमेश कुमार को अदालत के निर्णय को गलत प्रतिनिधित्व कर व पटीशनर की अंडरटेकिंग का सहारा लेकर रिवर्ट किए जाने कारण पंजाब के एससी समाज में पॉवरकॉम के चेयरमैन व समूह मैनेजमेंट के खिलाफ गुस्सा व रोष बढ़ता जा रहा है। वीरवार को पंजाब भर से आए एससी समाज के विभिन्न संगठनों के सदस्यों ने पीएसईबी एससी पॉवर इंजीनियर आफिसर एसो. के झंडे नीचे पॉवरकॉम मैनेजमेंट के खिलाफ जबदस्त रोष मार्च करते पॉवरकॉम के मुख्य कार्यालय के आगे पॉवरकॉम के चेयरमैन का पुतला फूंक प्रदर्शन किया गया।

इस मौके दर्जन से अधिक कर्मचारी, सामाजिक व धार्मिक संगठनों के सदस्यों ने एससी पॉवर इंजीनियर एसो. के इस रोष प्रदर्शन को डटकर समर्थन दिया। रोष प्रदर्शन दौरान अपने संबोधन में पीएसईबी एससी पॉवर इंजीनियर एसो. के राज्य अध्यक्ष इंज. एफसी जस्सल ने कहा कि यदि मैनेजमेंट की ओर से अदालत का निर्णय सही ढंग के साथ लागू किया जाता तो इंजीनियर हरमेश कुमार 17 के लगभग चीफ इंजनियरों से सीनियर बनते हैं। उन्होंने कहा कि पूर्व केंद्रीय मंत्री परनीत कौर के ध्यान में सारा मामला लाया गया था, जिस पीड़ित अधिकारी के साथ पॉवरकॉम मैनेजमेंट को इन्साफ करने के लिए कहा था परंतु मैनेजमेंट ने इस मामले को गंभीरता के साथ नहीं लिया।

रोष धरने को एसो. के जरनल सचिव इंज. कुलराज सिंह, डॉ. कुलदीप सिंह, तारा चंद, भगवान दास, सच फाउंडेशन होशियारपुर प्रधान डा. एसपी सिंह, अमरीक सिंह, कुशविन्दर कल्याण, विद्यार्थी नेता गुरजीत सिंह तुल्लेवाल, सुपरडैंट सतपाल सिंह, सोनी गिल के अलावा बड़ी संख्या में एससी समाज के सदस्य उपस्थित थे।

अनुसूचित जाति के कर्मियों के खिलाफ हो रही धक्केशाहियां नहीं होंगी बर्दाश्त

पॉवरकॉम मैनेजमेंट की ओर से गई इस जाति भेदभाव वाली कार्रवाई पर बरसते एससी समाज के लिए लगातार संघर्ष करते आ रहे युवा नेता व एससी कर्मचारी फेडरेशन,पंजाबी यूनिवर्सिटी के अध्यक्ष डॉ. जतिन्दर सिंह ने कहा कि पॉवरकॉम की मैनेजमेंट की ओर से अदालती निर्णय को गलत ढंग के साथ अनुसूचित जाति के उच्च अधिकारी खिलाफ इस्तेमाल किया गया। जो सीधा अनुसूचित जाति के अधिकारी के साथ जाति भेदभाव है। उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति के कर्मचारियों के खिलाफ हो रही ऐसी धक्केशाहियां किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएंगी। उन्होंने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि अदालत का निर्णय यदि मैनेजमेंट की ओर से सही ढंग के साथ लागू न किया गया तो पंजाब भर में पॉवरकॉम मैनेजमेंट के पुतले फूंके जाएंगे।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

 

लोकप्रिय न्यूज़

To Top