फटाफट न्यूज़
   मायावती मुसलमानों को अपनी जेब में रखना चाहती हैं: बीजेपी नेता अनिला सिंह l   पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद अजहरुद्दीन समेत 3 के खिलाफ ट्रैवल एजेंट को धोखा देने के आरोप में FIR l   दिल्ली: पवन कल्याण बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मिलने उनके आवास पहुंचे l   नीतीश कुमारः पवन वर्मा दूसरी पार्टी में जाना चाहें तो चले जाएं, मेरी शुभकामना l   निर्भया केसः तिहाड़ जेल प्रशासन ने चारों गुनहगारों से पूछा- उनकी अंतिम इच्छा क्या l   स्कूल बस हादसाः दिल्ली पुलिस ने दोनों बसों के चालकों को पकड़ा, पूछताछ जारी l
फीचर्स

पढ़ाई के बारे में टिप्स विद्यार्थी तय करें लक्ष्य

Saint Dr MSG

पढ़ाई के लिए इतने टिप्स हैं कि अगर कोई विद्यार्थी इन्हें अपनाकर पढ़े तो सफलता उसके कदम जरूर चूमती है। इसका प्रत्यक्ष उदाहरण शाह सतनाम जी शिक्षण संस्थान हैं, जहां बोर्ड की परीक्षाओं में भी एक क्लास के लगभग 100 प्रतिशत बच्चों की मैरिट आती है। ये टिप्स पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां द्वारा बताई गई हैं। ऐसे में आप निश्चिंत होकर इनको अपना सकते हैं।

  • विद्यार्थी रात को जल्दी सोने और सुबह जल्दी उठने की आदत अपनाएं।
  • पढ़ाई करने वाला स्थान बिल्कुल शांत हो। अगर आपकी लिखने की गति कम है तो उसे लगातार अभ्यास द्वारा बढ़ाएं।
  • कुछ याद करने के बाद अगर लिखकर देख लें तो वह दिमाग में फिट हो जाता है।
  • गणित व लेखांकन की तैयारी लगातार करते रहें।
  • हमेशा स्कूल, कॉलेज में निश्चित समय से 10 मिनट पहले पहुंचे।
  • आपका निशाना मैरिट ही नहीं, बल्कि पहले नम्बर पर आना हो।
  • अगर आप पढ़ाई व खेलों में अच्छी सफलता प्राप्त करना चाहते हैं तो ब्रह्मचर्य का पालन करें।
  • अपना लक्ष्य तय करें व उसके लिए मेहनत करें।
  • सदैव शाकाहारी भोजन का ही सेवन करें।
  • बहुत उत्तेजित करने वाला भोजन व नशीले पदार्थों का सेवन न करें।
  • कई विद्यार्थियों को परीक्षा के बारे में सोचकर बेचैनी महसूस होने लगती है,
  • मन में कई विचार घूमने लगते हैं कि क्या मैं सभी प्रश्नों का उत्तर दे पाऊंगा?
  • थोड़ा और पढ़ लेता तो अच्छा होता, आदि!

ये विचार लगभग हर विद्यार्थी को परेशान करते हैं, इससे शरीर में एड्रिनलिन हारमोन स्त्रावित होता है लेकिन ज्यादा घबराहट परेशानी का सबब बन जाती है। यह व्यक्ति के चारों ओर एक नकारात्मक घेरा बना देती है और फिर वो एकाग्र होकर सोच-समझ नहीं पाता। इसका प्रदर्शन पर बुरा प्रभाव पड़ता है, क्योंकि विद्यार्थी न तो प्रश्नों पर अपना ध्यान केन्द्रित कर पाता है और न ही सटीक उत्तर दे पाता है। ऐसे कई उपाय हैं जिनसे परीक्षा का भय दूर किया जा सकता है ताकि विद्यार्थी अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर सके।

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करे।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top