पंजाब

साध-संगत ने विधवा बहन को बनाकर दिया आशियाना

Sage-Friendly Widows Widow Sister

महिला काके कौर का मकान गिरने का डर हुआ खत्म

बठिंडा/रामपुरा फूल।

बरसात के कारण खस्ता हालत हुए घर में अपने परिवार सहित रह रही विधवा महिला काके कौर की, इस घर के गिरने की चिंता तब खत्म हो गई जब ब्लॉक बाल्यांवाली की साध -संगत ने बहन के विनती करने पर कुछ ही घंटों में मकान बना कर विधवा महिला को दे दिया। जानकारी अनुसार गांव पित्थो के निवासी पाल सिंह का लम्बी बीमारी कारण देहांत हो गया था। उसे बचाने के लिए परिवार ने सब कुछ दाव पर लगा दिया परंतु वह बच न सका। पाल सिंह के देहांत बाद में उसके परिवार का कमाई का साधन बंद हो गया। विधवा काके कौर के घर पांच बेटियां व एक बेटे के पालन पोषण की जिम्मेदारी अकेली उस पर आने से काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा व उसे घर का गुजारा चलाने के लिए दो लड़कियों को भी स्कूल से हटाना पड़ा। बीते दिनों भारी बरसात के कारण काके कौर के मकान में दरारें आ गई, जिस कारण उसे घर गिरने की चिंता सताने लगी और सरकार की ओर से भी उसे कोई मदद नहीं दी गई।

जब महिला काके कौर ने डेरा सच्चा सौदा के मानवता की सेवा करने वाले डेरा श्रद्धालुओं के साथ संपर्क किया व अपनी दयनीय स्थिति बताई तो डेरा श्रद्धालुआें ने विधवा काके कौर के घर की बुरी हालत देखते हुए उस के घर को गिरा कर पुर्ण निर्माण करने का जिंमा उठाया। इसके अंतर्गत डेरा सच्चा सौदा के सेवादारों ने रविवार को कुछ ही घंटों में ब्लॉक बाल्यांवाली की साध-संगत के सहयोग के साथ विधवा काके कौर को आशियाना बना कर दिया व उसका बरसातों के दिनों में छत गिरने का खतरा हमेशा के लिए खत्म कर दिया।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो

लोकप्रिय न्यूज़

To Top