खुलासा: एनआईसी मिनिस्ट्री को नहीं पता अरोग्य सेतु ऐप किसने बनाया?

0
Aarogya Setu App

नई दिल्ली। कोरोना संकट में आरोग्य सेतु ऐप की अहमित का इस बात से अंदाजा लगा सकते हैं कि हवाई यात्राओं से लेकर मेट्रो, अंतर्राष्टÑीय बस अड्डों और ट्रेनों में सफर से पहले इसे जांचा जाता है। प्रधानमंत्री भी लोगों से कई बार डाउनलोड करने की अपील कर चुके है। अब इस ऐप को लेकर चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। सरकारी वेबसाइटों को डिजाइन करने वाले नेशनल इन्फॉर्मेटिक्स सेंटर ने कहा कि आरोग्य सेतु ऐप को किसने बनाया है, यह उसे पता नहीं है। इस मुद्दे पर चीफ इन्फॉर्मेशन कमिशन ने एनआईसी को फटकार लगाई है और तमाम चीफ पब्लिक इन्फॉर्मेशन आॅफिसरों को कारण बताओं नोटिस जारी किया है। एनआईसी मिनिस्ट्री आॅफ इलेक्ट्रॉनिक्स के तहत आती है।

क्या है पूरा मामला

गौरतलब हैं कि सौरव दास नाम के एक शब्स ने चीफ इन्फॉर्मेशन कमिशन में शिकायत दर्ज कराई थी। दास का दावा था कि उन्होंने आरोग्य सेतु ऐप कोबनाने वाले के बारे में जानकारी के लिए एनआईसी, नेशनल ई-गवर्नेस डिविजन और मिनिस्ट्री आॅफ इलेक्ट्रॉनिक्स ऐंड इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी से सम्पर्क किया गया था।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।