राजस्थान में फिर आरक्षण मुद्दा गरमाया

0
Gujjar-reservation-issue

 कांग्रेस की बातचीत से मसला सुलझाने की अपील

जयपुर। राजस्थान में गुर्जर आरक्षण का मुद्दा फिर गरमा गया हैं और इसे लेकर शुक्रवार को भरतपुर जिले के बयाना के अड्डा गांव में गुर्जर महापंचायत शुरू हुई। गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के आह्वान पर बुलाई गई महापंचायत में गुर्जर समाज के लोगों आए। बताया जा रहा है कि समिति के संयोजक कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला महापंचायत में शामिल हुए। इसमें करीब 80 गांवों के लोगों को बुलाया गया है।

वहीं राजस्थान में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने आरक्षण को लेकर आंदोलन की तैयारी कर रहे गुर्जर नेताओं से मसला बातचीत के जरिए सुलझाने की अपील की हैं। महापंचायत के मद्देनजर मौके पर पुलिस बल तैनात किया गया हैं जिले के बयाना, बैर, भुसावर, रूपवास समेत कई जगह शुक्रवार रात 12 बजे से इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गईं। पुलिस के अनुसार कानून एवं सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस के कई बड़े अधिकारियों सहित दो हजार से अधिक पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं। रेल पटरियों की सुरक्षा के लिए भी व्यवस्था की गई हैं।

क्या है मांग

गुर्जर समाज आरक्षण को केन्द्र की नौवीं अनुसूची में शामिल करने, बैकलॉग की भर्तियां निकालने एवं प्रक्रियाधीन भर्तियों में पूरा पांच प्रतिशत आरक्षण का लाभ देने, एमबीसी कोटे से भर्ती हुए 1252 कर्मचारियों को नियमित करने, आंदोलन के शहीदों के परिजनों को नौकरी एवं मुआवजा तथा मुकदमों को वापस लेने की मांग कर रहा है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।