Breaking News
   प्रधानमंत्री मोदी ने शरद पवार को दी जन्मदिन की बधाई|    नागरिकता बिल पर बवाल के बीच आज अमित शाह से मिलने दिल्ली आएंगे मेघालय के मुख्यमंत्री |   नागरिकता बिल के खिलाफ ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन भी SC में दाखिल करेगा याचिका |   झारखंड चुनाव: तीसरे चरण में सुबह 9 बजे तक 12.89% मतदान।   असम: नागरिकता बिल के विरोध में बवाल, विस्तारा ने रद्द की कई उड़ानें |
Breaking News

राजस्थान निकाय चुनाव: भाजपा पर भारी पड़ी कांग्रेस

जयपुर (एजेंसी)। प्रदेश के 49 निकायों में 2105 वार्डों में हुए चुनाव के परिणाम की तस्वीर साफ हो चुकी है। 2105 वार्डों में से जहां सत्तारूढ़ कांग्रेस 961 वार्डों में विजयी हुई है तो वहीं भाजपा 737 वार्डों में चुनाव जीती है।386 वार्डो में निर्दलीय प्रत्याशी चुनाव जीतकर आए हैं। ऐसे में ये अब साफ है कि कई निकायों में निकाय प्रमुख बनाने में निर्दलीय पार्षदों का सहारा लेना पड़ेगा। इसके अलावा बसपा 16 सीपीआईएम 3 और एनसीपी को भी 2 सीट मिली हैं। दरअसल 49 निकायों के मंगलवार को आए चुनाव परिणाम से सत्तारूढ़ कांग्रेस खासी उत्साहित हैं। संभावना है कि 20 से ज्यादा निकायों में कांग्रेस का बोर्ड बनना तय है। हालांकि उसके लिए बुरी खबर ये भी है कि बीकानेर, उदयपुर नगर निगम में भाजपा का परचम लहराया है तो वहीं भरतपुर नगर निगम में कांग्रेस को निर्दलीय पार्षदों के सहारे की जरुरत पड़ेगी।

20 नवंबर को जारी होगी निकाय प्रमुखों के चुनाव की अधिसूचना

निकाय प्रमुखों के चुनाव की अधिसूचना 20 नवंबर को जारी होगी। नामांकन पत्रों को प्रस्तुत करने की आखिरी तारीख 21 नवंबर है। इसके बाद 22 नवंबर को नामांकन पत्रों की जांच होगी और 23 तारीख को नाम वापस ले सकते हैं। नाम वापसी के तुरंत बाद शेष बचे दावेदारों को चुनाव चिन्ह आवंटित कर दिए जाएंगे।इसके बाद निकाय प्रमुखों के चुनाव 26 नवंबर को सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक होगा। वहीं उपाध्यक्ष का चुनाव 27 नवंबर को होगा। बता दें कि 49 निकायों में 16 चुनाव में कुल 71.53 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया।सर्वाधिक मतदान अजमेर जिले की नसीराबाद नगरपालिका में 91.57 प्रतिशत दर्ज हुआ, जबकि सबसे कम उदयपुर नगर निगम में 54.84 प्रतिशत मतदान हुआ। बहरहाल अब देखना ये है कि पार्षदों की बाड़ेबंदी के बीच सत्तारूढ़ कितने निकायों में अपना बोर्ड बनवा पाएगी वहीं देखने वाली बात ये भी होगी 386 वार्डों में चुनाव जीते निर्दलीय पार्षद किसकी नैय्या पार लगवाते हैं।

सूरतगढ़, भरतपुर में भी कांग्रेस में के अधिकतर उम्मीदवारों ने जीत

ऐसे में माउंटआबू में कांग्रेस का बोर्ड बनना तय माना जा रहा है। सूरतगढ़, भरतपुर में भी कांग्रेस में के अधिकतर उम्मीदवारों ने जीत कर ली है। सूत्रों ने बताया कि तीनों जगह कांग्रेस का बोर्ड बनना तय माना जा रहा है। बता दें कि राजस्थान के 49 नगर निकायों में 2,000 से अधिक पार्षद पदों के लिए हुए चुनावों के लिए मतगणना सुबह 8 बजे से शुरू हो गई है। इसके लिए सुरक्षा व अन्य बंदोबस्त कर लिए गए हैं। राज्य में तीन नगर निगमों, 18 नगर परिषद और 28 नगरपालिकाओं यानी कुल 49 निकायों में सदस्य पार्षद पद के लिए शनिवार को मतदान हुआ था। चुनाव में कुल 71.53 फीसद मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया था।

Live Updates:

निम्बाहेड़ा निकाय चुनाव रिजल्ट

  • वार्ड नं 12- Congress
  • वार्ड नं 13-. Congress
  • वार्ड नं 14- Congress
  • वार्ड नं 15- Bjp
  • वार्ड नं 16- Congress
  • वार्ड नं 17- Congress
  • वार्ड नं 18- Bjp
  • वार्ड नं 19- Congress
  • वार्ड नं 20- Bjp
  • वार्ड नं 21- Congress
  • वार्ड नं 22- Bjp
  • वार्ड नं 23- Congress
  • वार्ड नं 24- Congress

जैसलमेर: नगर परिषद

  • कांग्रेस ने 45 में से 21, बीजेपी ने 20 व निर्दलीय ने 4 पर मारी बाज़ी ।
  • वार्ड – पार्टी -विजयी उम्मीदवार
  • वार्ड 1 – कांग्रेस – निर्मल पुरोहित
  • वार्ड 2 – बीजेपी- राज कंवर
  • वार्ड 3 – बीजेपी – चरण सिंह
  • वार्ड 4 – कांग्रेस – खींव सिंह
  • वार्ड 5 – बीजेपी – पुरखाराम
  • वार्ड 6 – बीजेपी – मोतीलाल
  • वार्ड 7 – बीजेपी – अशोक राम
  • वार्ड 8 – निर्दलीय – सकीना
  • वार्ड 9 – कांग्रेस – प्रकाश
  • वार्ड 10 – -बीजेपी – गिरधर सिंह
  • वार्ड 11 – निर्दलीय – देवी सिंह
  • वार्ड 12 – बीजेपी – शांति
  • वार्ड 13 – कांग्रेस – कमलेश छंगाणी
  • वार्ड 14 – बीजेपी- गोमती देवी
  • वार्ड 15 – बीजेपी – सरला शर्मा
  • वार्ड 16 – बीजेपी – सीमा गोपा
  • वार्ड 17 – कांग्रेस – नेहा व्यास
  • वार्ड 18 -कांग्रेस – दुर्गा देवी
  • वार्ड 19- कांग्रेस – सोढ़ी खातून
  • वार्ड 20 – कांग्रेस हरि वल्लभ कला
  • वार्ड 21 – बीजेपी – गोपाराम
  • वार्ड 22 – कांग्रेस – कैलाश कुमार
  • वार्ड 23 – कांग्रेस – सुमार खान
  • वार्ड 24 – कांग्रेस- प्रवीण सुदा
  • वार्ड 25 – बीजेपी – अरुण शर्मा
  • वार्ड 26 – कांग्रेस – मृणाली जोशी –
  • वार्ड 27 – कांग्रेस – फिरदौश
  • वार्ड 28 -कांग्रेस – उपदेश
  • वार्ड 29- कांग्रेस – घनश्याम राम
  • वार्ड 30 – कांग्रेस- रूखी
  • वार्ड 31- बीजेपी – पारस गर्ग
  • वार्ड 32 – बीजेपी – प्रवीण
  • वार्ड 33 – बीजेपी – ओमप्रकाश
  • वार्ड 34 -कांग्रेस – सिकंदर खान
  • वार्ड 35- बीजेपी – नरेंद्र कुमार
  • वार्ड 36 -कांग्रेस – लीलाधर
  • वार्ड 37- कांग्रेस – चंचल व्यास
  • वार्ड 38- कांग्रेस – दुर्गेश आचार्य
  • वार्ड 39 – निर्दलीय – ममता
  • वार्ड 40- बीजेपी – पुष्पा कंवर
  • वार्ड 41 – कांग्रेस – प्रेम कंवर
  • वार्ड 42 – बीजेपी – विक्रम सिंह
  • वार्ड 43 – बीजेपी – नरसिंह ओड
  • वार्ड – 44 – बीजेपी – जगदान
  • वार्ड 45- निर्दलीय – पिंकू कंवर

पिछली बार भाजपा का पलड़ा भारी

जिन 49 निकायों में चुनाव हुआ है, वहां पिछले चुनाव में भाजपा का पलड़ा भारी रहा था। इस बार छह निकायों में पहली बार चुनाव हुआ है। ऐसे में पिछली बार 43 निकायों में चुनाव हुआ था और इनमें से 35 जगह भाजपा के अध्यक्ष थे, जबकि सात जगह कांग्रेस के अध्यक्ष थे। ऐसे में भाजपा का बहुत कुछ दांव पर लगा है, जबकि कांग्रेस चूंकि अभी सत्ता में है, इसलिए इसकी भी प्रतिष्ठा दांव पर है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करे।

Rajasthan municipal election

लोकप्रिय न्यूज़

To Top