हजारों स्टूडेंट्स के अरमानों पर पानी

0
Rain, Student, Frustrated, College, Admission, Haryana

दाखिले के अंतिम दिन आई जोरदार बारिश ने बिगाड़ा खेल

आफत की बरसात: बरसात के कारण देरी से पहुंचे विद्यार्थी, लौटे निराश

भिवानी (सच कहूँ न्यूज)। मानसून की बरसात ने वीरवार को जहां प्रदेशभर के कई जिलों को जलमग्न कर दिया वहीं दूसरी ओर हजारों विद्यार्थियों के अरमानों पर भी पानी फेर डाला। दरअसल वीरवार को कॉलेजों में दाखिले का अंतिम दिन था।

भोर होते ही कहीं मुसलाधार तो कहीं रिमझिम बरसात शुरू हो गई जिस कारण हजारों स्टूडेंट्स दाखिले से वंचित रह गए। प्रदेशभर के कॉलेजों में विद्यार्थियों की लंबी कतारें देखने को मिली।

प्रदेशभर के कॉलेजों में देखी गई लंबी कतारें

भवानी स्थित कॉलेज में दाखिले के लिए आॅपन काऊंसिल की गई, लेकिन सुबह से आ रही तेज बारिश के कारण बहुत से विद्यार्थी कॉलेज में दाखिले के लिए देरी से पहुंच पाए, जिसके कारण उनको दाखिले से वंचित रहना पड़ा।

क्योंंकि कॉलेज प्रशासन ने दाखिले के लिए जो कट आॅफ लिस्ट लगाई थी, उसके आधार पर सुबह 11 बजे तक ही दाखिलों के लिए समय निर्धारित किया गया। इसी के विरोध स्वरूप राजकीय महाविद्यालय में छात्र नेताओं के साथ विद्यार्थियों ने कॉलेज प्रशासन के खिलाफ नोरबाजी की।

11 बजे निर्धारित किया गया था दाखिले का समय

भिवानी में वीरवार को आई तेज बारिश के कारण कॉलेज में देरी से पहुंचे, जिसके कारण कॉलेज प्रशासन ने पहले पहुंचने वाले विद्यार्थियों के ही दाखिले किए। लेकिन लम्बी कतार में खड़े अच्छी पास प्रतिशतता वाले विद्यार्थी दाखिले से वंचित रह गए।

क्योंकि कॉलेज प्रशासन ने 11 बजे के बाद कतार में खड़े किसी भी विद्यार्थी का दाखिला नहीं लिया और फॉर्म जमा करने वाली खिड़की बंद कर दी। इसी के विरोध स्वरूप राजकीय महाविद्यालय में छात्र नेताओं के साथ विद्यार्थियों ने कॉलेज प्रशासन के

खिलाफ जमकर नोरबाजी करते हुए हरियाणा सरकार को भी आड़े हाथ लिया और उनकी शिक्षा नीतियों पर प्रश्न चिह्न उठाते हुए कहा कि कॉलेज प्रशासन की मनमानी के कारण मेधावी विद्यार्थियों को निराश होकर घर लौटना पड़ रहा है।

जलभराव के कारण पहुंचने में हुई देरी

भिवानी में छात्र नेता मनदीप सुई ने कहा कि कॉलेज प्रशासन द्वारा पहले ही तीन लिस्ट लगा दी गई हैं चुकी है, जिसमें अभी तक मेधावी विद्यार्थियों को तीन दाखिला नहीं मिल पाया है। आज कॉलज में ओपन काऊंसलिंग करवाई गई थी, जिसका समय केवल दो घंटे सुबह 9 से 11 बजे का रखा था।

लेकिन इस समय अंतराल में भिवानी में तेज बारिश के कारण हुए जलभराव से विद्यार्थी कॉलेज में इस समय अंतराल में नहीं पहुंच पाए। जिसके कारण कॉलेज प्रशासन ने दाखिला करने वाली खिड़की को 11 बजे ही बंद कर दिया।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।