तीसरे दिन रेलवे का परिचालन रहा ठप, पसरा सन्नाटा

0
Railway operations stalled

पहले कोविड और अब आंदोलन से आर्थिकता को पहुंच रहा नुकसान

Railway operations stalled

  • रिजर्व टिकट हुए रद्द, यात्रियों में निराशा का माहौल

लुधियाना (सच कहूँ न्यूज)। पंजाब की आर्थिक राजधानी लुधियाना का रेलवे स्टेशन सुनसान पड़ा हुआ है। किसान आंदोलन के चलते लगातार तीसरे दिन ट्रेनों का परिचालन ठप रहने से यात्रियों का आना जाना बंद होने से स्टेशन खाली पड़ा हुआ है। कोविड-19 के चलते रेलवे को पहले ही भारी नुकसान झेलना पड़ रहा है। ऊपर से किसान आंदोलन के चलते यात्रियों को भी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जो ट्रेनें चलती थी उनमें यात्रियों का रिजर्व टिकट होने से सभी जरूरी काम से सफर के लिए तैयार थे, लेकिन किसान आंदोलन के चलते ट्रेनों को रद करने के कारण यात्रियों को निराशा हाथ लगी है।

रविवार से ट्रेनें चलेंगी या नहीं इसके लिए सूचना मिलने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है

लुधियाना रेलवे स्टेशन पर यात्री केवल आरक्षण केंद्र पर रिजर्व टिकट वापसी के लिए आते रहते हैं। ट्रेनों का परिचालन कब शुरू होगा इस बारे में स्टेशन अधीक्षक अशोक सिंह सलारिया से बात करने पर उन्होंने कहा कि आज तक ट्रेनों का परिचालन बंद है। वहीं रविवार से ट्रेनें चलेंगी या नहीं इसके लिए सूचना मिलने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। चर्चा यह भी है कि किसान आंदोलन की तारीख बढ़ा सकते हैं, जिससे ट्रेनों का परिचालन मुश्किल हो जाएगा। लुधियाना रेलवे स्टेशन पर ट्रेनों का आवागमन यात्रियों का यहां आना जाना ठप होने से खाली पड़ा हुआ है, लेकिन सुरक्षा को लेकर जीआरपी, आरपीएफ व जिला पुलिस तत्पर है।

खाली स्टेशन पर भी जिला पुलिस की ओर से एडीसीपी दीपक पारेख की अगुआई में पुलिस पार्टी दिन में दो-तीन बार गश्त लगा रही है। इसके अलावा आरपीएफ व जीआरपी रात दिन मुस्तैदी के साथ ड्यूटी कर रही है। इस संबंध में आरपीएफ के पोस्ट कमांडर अनिल कुमार व जीआरपी के प्रभारी बलविंदर सिंह घुम्मन ने कहा कि रेलवे की सुरक्षा पुख्ता है और पुलिस टीम लगातार चौकसी बरत रही है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।