Breaking News

चार रेल नेटवर्क वाला देश का इकलौता शहर होगा गुरुग्राम

rail networks will be Gururgram

अभी तक हैं तीन रेल नेटवर्क, आमजन को है सुविधा

जल्द शुरू हो जायेगा दिल्ली-गुरुग्राम-अलवर रेल कॉरीडोर

उद्योग, रियल एस्टेट के लिए फायदेमंद होगा यह रेल नेटवर्क

संजय कुमार मेहरा/सच कहूँ

गुरुग्राम। आने वाले समय में गुरु द्रोणाचार्य का शहर गुरुग्राम देश का इकलौता ऐसा शहर बन जायेगा, जहां पर चार रेल नेटवर्क होंगे। यानी यहां से चार तरह की रेल सेवायें संचालित होंगी। अभी तक तीन रेल सेवाएं यहां चल रही हैं और आने वाले समय में एक और रेल सेवा भी शुरू हो जाएगी।  महाभारत कालीन शहर गुरुग्राम में ही गुरु द्रोणाचार्य ने कौरवों-पांडवों को अस्त्र-शस्त्र की शिक्षा दी थी।

गुरुग्राम की शान में अब और भी इजाफा होने जा रहा है। इसी साल के आरंभ में हुई बैठक में हरियाणा कैबिनेट ने एनसीआरटीसी की आरआरटीएस परियोजना दिल्ली-गुरुग्राम-अलवर कॉरीडोर के पहले फेज दिल्ली-गुरुग्राम-एसएनबी तक बनाया जाएगा। इस कॉरीडोर के बनने के बाद गुरुग्राम एनसीआर में एकलौता ऐसा शहर होगा जहां, चार प्रमुख परिवहन साधन भारतीय रेल, दिल्ली मेट्रो, रैपिड मेट्रो और रैपिड रेल की कनेक्टिविटी मिलेगी। जिससे गुरुग्राम के विकास में और तेजी आएगी। रैपिड रेल की ओल्ड गुरुग्राम से कनेक्टिविटी होने से लाखों लोगों को फायदा मिलेगा। इसके साथ ही गुरुग्राम में रेलवे स्टेशन तक रैपिड मेट्रो भी प्रस्तावित है। पहले चरण में बावल तक और फिर दूसरे चरण में यह रेल अलवर तक पहुंचाई जाएगी।

गुरुग्राम से बावल तक बनेंगे 11 स्टेशन

आरआरटीएस मैप के हिसाब से आरआरटीएस स्टेशन का निर्माण गुरुग्राम में उद्योग विहार, सेक्टर-17, राजीव चौक, खेड़की दौला, मानेसर, पंचगांव, बिलासपुर, धारुहेड़ा, रेवाड़ी, बावल, एसएनबी में होना है। रैपिड रेल के माध्यम से लोग गुरुग्राम से एनसीआर (दिल्ली, गाजियाबाद, मेरठ, मानेसर, धारुहेड़ा, बावल, नीमराना, सोनीपत, पानीपत) में घंटे भर में यात्रा कर सकेंगे। जिससे दूर के क्षेत्रों में नौकरी करने वाले लाखों नौकरी पेशा लोगों को फायदा मिलेगा।

मात्र 70 मिनट में तय होगा 106 किमी का सफर

आरआरटीएस के प्रवक्ता सुधीर कुमार ने बताया कि इस कॉरीडोर पर आगामी जून माह में पाइल लोडिंग टेस्ट कार्य शुरू हो जाएगा। आरआरटीएस प्रोजेक्ट दिल्ली के सराय कालेखां से एसएनबी तक इस प्रोजेक्ट में 24,975 करोड़ की लागत आएगी। रैपिड रेल का पूरा निर्माण होने के बाद 106 किलोमीटर की दिल्ली सराय काले खां से एसएनबी की दूरी लगभग 70 मिनट से भी कम समय में तय की जा सकेगी।

गुरुग्राम की रियल एस्टेट मार्केट को मिलेगा बढ़ावा

आरआरटीएस की परियोजन पर उम्मीद जताते हुए डेवेलपर अल्फाकॉर्प के सीईओ आशीष सरीन ने कहा कि आरआरटीएस के आने से न्यू गुडगांव के क्षेत्र में सबसे तेजी से कनेक्टिविटी बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि स्टेशन के आसपास के क्षेत्रों में रियल एस्टेट डेवलपर्स निवेश के लिए उत्साहित होंगे और घर खरीदार भी आकर्षित होंगे। कनेक्टिविटी के बढ़ने से स्टेशन के आसपास इलाको में प्रॉपर्टी रेट में वृद्धि होना तय है। एनसीआर में गुरुग्राम रियल एस्टेट हब बन जाएगा। साथ ही इस हाई स्पीड रेल की वजह से न्यू गुरुग्राम के लोग गुरुग्राम से मानेसर-धारुहेड़ा-बावल तथा दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ बहुत ही कम समय में यात्रा कर सकेंगे।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top