फर्श पर तैयार किये जा रहे थे ‘मटर’, लगाई फटकार

0
Raid

जिला फूड सेफ्टी अधिकारी ने टीम सहित की छापेमारी | Raid

हिसार (सच कहूँ न्यूज)। फूड सेफ्टी डिपार्टमेंट के मुख्य जिला अधिकारी द्वारा हांसी में छापेमारी की गई है। इस छापेमारी (Raid) के दौरान कई चौका देने वाले पहलू भी सामने आए। हांसी में फूड सेफ्टी आॅफिसर डॉ. अरविन्द्र जीत सिंह अपनी टीम के साथ पहुंचे और उन्होंने खाद्य पदार्थ बेचने और उसे बनाने वाले संस्थानों पर जाकर चेकिंग की।

जांच में सामने आया कि उपभोक्ताओं की सेहत के साथ जमकर खिलवाड़ किया जा रहा है। एक गोदाम में तले हुए मटर बनाये जा रहे थे, गोदाम के कमरे की और वहां मटरों के निर्माण के खेल के बारे में बात करे तो, कारीगर नीचे फर्श पर एक फट्टे पर ही मैदा बेल रहा था। मैदा बेलने के बाद जो कटाई के लिए मटर का मेटेरियल तैयार होता है उसे बिना किसी बर्तन इत्यादि में रखने की बजाय नीचे फर्श पर ही रखा जा रहा था। इसके अलावा सामान बनाने के लिए उपयोग में आने वाले बर्तनों में भी साफ सफाई नहीं थी।

यह देखने के बाद फूड सेफ्टी आॅफिसर डॉ. अरविन्द्र जीत सिंह ने गोदाम के अंदर मौजूद कर्मचारियों को फटकार भी लगाई। उन्होंने कहा कि आम जनता आप पर भरोसा करके ही सामान खरीदती है, लेकिन उसी जनता को आप बीमारियां बांटने का काम कर रहे हो।

खाद्य पदार्थों व मिठाईयों के भरे सैंपल | Raid

  • एफएसओ डॉ. अरविन्द्र जीत सिंह ने बताया कि हांसी में 4 जगहों से सैंपल लिए गए है।
  • इनमें जयसिंह लक्ष्मण चौतरा के पास से तले हुए नमकीन मटर के सैम्पल लिए गए है।

इसके अलावा नहर कोठी रोड़ स्थित सैनी मिल्क सेंटर के संचालक भूपेंद्र सैनी से घी के सैम्पल, जोग डेरी के जोगिंदर सिंह से भी घी के सेम्पल लिए है। वहीं, हांसी के सदर बाजार में हरिचन्द एंड सन्स के संचालक गुलशन कुमार की मौजूदगी में मिठाई के सैम्पल लिए है।

सैंपल की रिपोर्ट आने के बाद होगी आगामी कार्रवाई: डॉ अरविन्द्र | Raid

  • एफएसओ डॉ. अरविन्द्र जीत सिंह का कहना है कि इन सैम्पल को जांच के लिए लैब में भेजा जाएगा।
  • रिपोर्ट के आधार पर आगामी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।
  • उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार और फूड सेफ्टी विभाग का प्रयास है कि लोगों को बेहतर गुणवत्ता वाला खाद्य पदार्थ उपलब्ध हो।

लेकिन कुछ लोग लालच के वंश में मिलावटी और निम्न सत्र की क्वालिटी वाला खाद्य पदार्थ लोगों को बेचकर उनकी सेहत के साथ खिलवाड़ करते हैं। अधिकारी ने कहा कि खाद्य पदार्थ बनाने वाले जिला के तमाम दुकानदार गुणवत्ता की ओर ध्यान दें। अधिकारी ने कहा कि जिला के और क्षेत्रों में भी जाकर जल्द औचक निरीक्षण किया जाएगा।

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।