मेडिकल संचालक ने रसोई में छुपा रखा था नशीली दवाईयों का जखीरा

0
Raid, Medical Store, Health Department, Intoxicated Pills, Haryana

झोरड़रोही व अलीकां में देर रात तक चलती रही कार्यवाही

ओढां(सचकहूँ न्यूज)। जीवन रक्षक दवाओं की आड़ में मेडिकल संचालक नशीली दवाईयां बेचकर किस कदर अपनी जेबें भरने में लगे हुए हैं। इसका एक उदाहरण रोड़ी थाना क्षेत्र में देखा गया। जहां स्वास्थय विभाग की टीम ने दो मेडिकल स्टोरों पर छापेमारी करते हुए खाली पड़े मकान से भारी मात्रा में नशीली दवाईयां बरामद की है। विभाग ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज करवाकर मेडिकल स्टोर सील कर दिया है। बरामद दवाओं की कीमत करीब 12 लाख रूपये बताई गई है।

मेडिकल संचालकों में हड़कंप

औषधि नियंत्रण अधिकारी संदीप गहलान को सूचना मिली थी कि रोड़ी थाना क्षेत्र के गांव अलीकां व झोरड़रोही में दो मेडिकल संचालक जीवन रक्षक दवाईयों की आड़ में नशीली दवाईयों की बिक्री कर लोगों के स्वास्थय से खिलवाड़ कर रहे हैं। सूचना के आधार पर जिला औषधि नियंत्रण अधिकारी संदीप गहलान ने डॉ. सांकेत कुमार, एनके आहुजा, पीएचसी रोड़ी से डॉ. गिरीश अत्री व रोड़ी पुलिस को साथ लेकर झोरड़रोही व अलीकां में दो मेडिकल स्टोरों पर छापेमारी की। इस विभागीय कार्रवाई के बाद क्षेत्र के मेडिकल स्टोरों तथा झोलाछापों में हड़कम्प की स्थिति देखी गई।

अधिकांश मेडिकल स्टोरों के शटर डाऊन हो गए तो वहीं झोलाछाप भी भूमिगत हो गए। विभाग की टीम ने सर्वप्रथम गांव झोरड़रोही में ढिल्लों मेडिकल हाल पर छापेमारी की। लेकिन मेडिकल संचालक को इसकी समय रहते भनक लगने के बाद वह अपना मोबाईल बंद कर भूमिगत हो गया। जिसके बाद टीम ने उसकी ढाणी में जाकर जांच पड़ताल की तो तूड़ी में छुपाकर रखी ट्रामाडोल की 340 गोलियां बरामद हुई। अधिकारियों ने मेडिकल संचालक निर्मल सिंह के पिता बलवीर सिंह के खिलाफ कार्रवाई की गई है।

एक लाख 55 हजार की 280 गोलियां बरामद

वहीं दूसरी कार्रवाई अलीकां में एके मेडिकोज पर की गई। ड्रग अधिकारियों ने काफी समय तक वहां रहकर मेडिकल स्टोर की छानबीन की तो काऊंटर में एक गुप्त जगह में छुपाकर रखी 280 गोलियां ट्रामाडोल व छत पर छुपाकर रखी 24 हजार गोलियां बरामद की। इसके अलावा टीम ने खाली पड़े मकान की रसोई में से एक लाख 25 हजार 300 गोलियां ट्रामाडोल व 13 डिब्बों में एल्प्राजोलम आदि बरामद की है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।