‘पबजी’ गेम बन रही बच्चों के लिए खतरा

0
PUBG GAME

पबजी गेम खेलने वाले बच्चे हो रहे मानसिक बीमारी का शिकार | PUBG GAME

  • सिमरनजीत का कहना है कि इस गेम पर तुरंत बैन लगाया जाना चाहिए

राजपुरा(सच कहूँ/जतिन्द्र लक्की)। मोबाईल फोन आज कल हर इन्सान की जरूरत बन गया है चाहे वह बड़ा हो या छोटा। सभी को मोबाईल फोन की जरूरत पड़ती है। जहां एक वस्तु का फायदा है वहीं उनका अधिक इस्तेमाल हम मनुष्यों के लिए घातक भी सिद्ध हो सकता है। मोबाईल फोन पर गेम खेलना बच्चों के लिए घातक सिद्ध हो रहा है। मोबाईल फोनों की गेम में एक गेम है ‘पबजी’ इसे आज कल के युवा सभी काम धंधे छोड़कर बहुत ही रूचि के साथ खेल रहे हैं।

इस गेम ने युवाओं को पर ऐसा जादू किया है कि युवाओं को अपनी होश ही नहीं रहती और वे अपने आप में ही खोए रहते हैं। यह गेमस आजकल के बच्चों को एडिक्ट बना रही हैं। इस गेम का दिमाग व मन पर ऐसा बुरा प्रभाव पड़ रहा है कि बच्चे अपने आसपास गेम जैसा माहौल महसूस करता हुआ उटपटांग हरकतें करने लग जाते हैं। इस संबंधी राजपुरा से एक बच्चे की मां सिमरनजीत ने बताया कि उसका लड़का 12वीं कक्षा का विद्यार्थी है जब से उसने पबजी खेम खेलनी शुरू की है तब से ही उसका दिमागी संतुलन खराब हो गया है।

पबजी गेम पर तुंरत बैन लगाए जाने की मांग | PUBG GAME

  • वह सोता हुआ उठकर घुसपैठियों की तलाश करता हुआ बेड के नीचे देखने लग जाता है
  • व इसका ईलाज मनोवैज्ञानिक डॉक्टरों के पास चल रहा है।
  • सिमरनजीत का कहना है कि इस गेम पर तुरंत बैन लगाया जाना चाहिए
  • जैसा उनके बच्चे के साथ हो रहा है वह किसी अन्य के बेटे के साथ न हो।
  • आजकल बच्चों में मानसिकता बिगड़ने के मामलों में बढ़Þोतरी हो रही है।
  • इसका कारण आऊटडोर गेमस ना खेलकर बच्चे मोबाईल् ा गेमस खेलना पसंद करते हैं।
  • जरूरत है इस पर रोक लगाने की ताकि बच्चों का मानसिक व शारीरिक विकास हो सके।
  • इस अपने कार्योंं में समय निकाल अभिभावक बच्चों की तरफ जरू र ध्यान दें व उसे अकेला बिल्कुल भी महसूस न होने दें।

आईटी एक्सपर्ट का कहना | PUBG GAME

आईटी एक्सपर्ट मुखबीर का कहना है कि गेमस खेलने से बच्चों का दिमाग जरूर तेज होता है लेकिन जो गेमस बच्चों की मानसिकता पर बुरा प्रभाव डालती हैं, उनको प्ले स्टोर ऐप से ही हटा देना चाहिए, जिससे न मोबाईल में गेम होगी व न ही कोई इसे डाऊनलोड कर सकेगा। समय रहते इस पर विचार न किया गया तो आने वाले समय हमारी पीढ़ी के लिए बहुत ही भयानक सिद्ध होगा। इस पर समय रहते विशेष ध्यान देने की जरूरत है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करे।