प्रियंका को पुलिस ने लिया हिरासत में

0
Priyanka gets custody of police

सोनभद्र कांड मामला: घायल लोगों से मुलाकात कर घटना स्थल पर जा रही थी प्रियंका

  •  प्रदेश में अपराधियों के हौसले बुलंद: प्रियंका

  •  योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस को ठहराया जिम्मेदार

वाराणसी (एजेंसी)। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने शुक्रवार को यहां काशी हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती सोनभद्र ‘नरसंहार’ कांड में घायल लोगों से मुलाकात कर उनकी तबीयत के बारे में जानकारी ली तथा उनके शीघ्र स्वस्थ्य होने की कामना की। बीएचयू अस्पताल में घायलों से मुलाकात के बाद वह घटना स्थल उत्तर प्रदेश के सोनभद्र के उभ्भा गांव के लिए रवाना हुई वहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को यहां दलहट क्षेत्र में पुलिस ने रोेक दिया। जिसके बाद वह धरने पर बैठ गई हैं।

सुरक्षा बलों ने कांग्रेस महासचिव को सोनभद्र में निषेधाज्ञा लागू होने का हवाला देकर आगे जाने की अनुमति देने से मना कर दिया। उधर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस पूरे विवाद के लिए कांग्रेस सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के शासन काल के दौरान वनवासियों की जमीन को एक सोसायटी के नाम कर दिया गया। सीएम ने कहा कि एक तीन सदस्यीय जांच कमिटी बनाई गई है जो 10 दिन के अंदर अपनी रिपोर्ट देगी।

  • क्या है मामला

गौरतलब है कि जमीन विवाद को लेकर गत बुधवार को गांव की तीन महिलाओं समेत 10 आदिवासियों की हत्या कर दी गई थी। इस घटना में 24 से अधिक लोग घायल हो गए थे, जिनका इलाज वाराणसी और सोनभद्र के विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है।

  • योगी ने पांच अधिकारियों को किया निलंबित

उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था के हालात और समाजवादी पार्टी (सपा) सांसद मोहम्मद आजम खां के उत्पीड़न को लेकर शुक्रवार को विपक्ष के राज्य विधानसभा में जबरदस्त हंगामे और शोरशराबे के बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोनभद्र जिले में हुयी हिंसा के सिलसिले में पांच अधिकारियों के निलंबन की घोषणा की।
उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में प्रियंका की अवैध गिरफ्तारी खेदजनक है। इससे साबित होता है कि उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार में असुरक्षा बढ़ रही है। कांग्रेस अध्यक्ष, राहुल गांधी

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करे।