हरियाणा

सूलीखेड़ा की प्रियंका बनी पायलट

Priyanka, Pilot, Success, Proud, Haryana

जिन्दगी की असली उड़ान बाकी है, जिन्दगी के कई इम्तीहान अभी बाकी है

भट्टूकलां (मनोज सोनी)।‘जिन्दगी की असली उड़ान बाकी है, जिन्दगी के कई इम्तीहान अभी बाकी है, अभी तो नापी है मुठ्ठी भर जमीन हमने, अभी तो सारा आसमान बाकी है।’ यह कहना है भट्टूकलां खंड के गाँव सूलीखेड़ा की प्रियंका बैनिवाल का।

जिसने की अपनी अथक मेहनत के बल पर पायलेट बनने का मुकाम हासिल किया है। जिसुख राम बैनीवाल के बेटे सुरत सिह बैनीवाल की सुपुत्री प्रियंका ने वर्ष 2006 से कड़ी मेहनत के दम पर अपने बचपन के सपनों को साकार कर हकीकत में बदलकर सफलता पाई है।

जोकि उनके परिवार, गाँव, खण्ड और जिला फतेहाबाद के लिए गौरव की बात है। प्रियंका ने बचपन में आसमां में उड़ते हवाई जहाज को देखकर उसमें बैठने का सपना पालने की बजाय उसे स्वयं उड़ाने का सपना देखा और उसमें दिन रात एक करके सफलता भी हासिल कर ली है।

सपने को साकार करने की शुरूआत

प्रियंका ने वर्ष 2007 में हिन्दू हाई स्कूल सोनीपत से 10+2 की परीक्षा उत्तीर्ण की और इंडियन एविएशन बोर्ड के एग्जाम में अच्छी रैंकिंग हासिल की। इसके बाद देहली फ्लार्इंग क्लब से अपने सपने को साकार करने की शुरूआत की।

इसके बाद डब्लूसीसी एक्सेल एयर एविएशन फलार्इंग स्कूल फिलीपींस स्कूल से प्रशिक्षण पूर्ण किया। प्रिंयका ने बताया कि उसने सात चरणों की कठिन परीक्षा और प्रेक्टिकल व साक्षात्कार को बखूबी उत्तीर्ण करते हुए इंडिगो एयरलाइंस में बतौर पायलेट नियुक्ति हासिल की है।

इनके पति सूर्य प्रताप सिंह चहल बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स में डिप्टी कमांडेंट के पद पर वर्तमान में फिरोजपुर पंजाब में तैनात हैं। प्रियंका ने अपनी इस उपलब्धि का श्रेय माँ- बाप के सहयोग तथा अपनी मेहनत लगन को दिया है।

वहीं आज के युवाओं को संदेश देते हुए उसने कहा कि कड़ी मेहनत और लक्ष्य को निर्धारित कर बड़ी से बड़ी सफलता हासिल की जा सकती है। वहीं उसने विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्र के युवक-युवतियों को अपना समय बेकार में बर्बाद न करने की सलाह दी है। इस नियुक्ति पर परिवार के सदस्यों में खुशी का माहौल है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top

Lok Sabha Election 2019