प्रधानमंत्री ने की देश की पहली सी प्लेन सेवा की शुरूआत, खुद भरी उड़ान

0
First seaplane service

केवड़िया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को अपने गृह राज्य गुजरात के नर्मदा जिले में केवड़िया, जहाँ दुनिया की सबसे ऊँची प्रतिमा स्टेच्यू आॅफ यूनिटी स्थित है, से अहमदाबाद के साबरमती रिवरफ्रंट के बीच उड़ान भर कर देश की पहली सी प्लेन सेवा की विधिवत शुरूआत की। मोदी ने सरदार वल्लभभाई पटेल की 145 वी जयंती पर उनकी 182 मीटर ऊँची प्रतिमा पर पुष्पांजलि और मनोहारी एकता परेड का निरीक्षण करने के बाद यहां तालाब संख्या 3 स्थित वोटर ऐरोड्रोम से उड़ान भर कर इस सेवा की शुरूआत की।

गभग 200 किमी की दूरी सड़क मार्ग के करीब 4 घंटे की बजाय मात्र 45 मिनट में तय करेगी

जब वह पहाड़ियों से घिरे इस जलीय हवाई अड्डे पर विमान में सवार होने वाले थे उससे पहले उन्हें चालक दल के एक सदस्य ने आपातकालीन सुरक्षा सम्बंधी जानकारी दी और उन्होंने इसे गौर से सुना। (First seaplane service) इस सेवा के लिए निजी उड्डयन सेवा प्रदाता कम्पनी स्पाइस जेट 19 सीटों वाले एक विमान का इस्तेमाल कर रही है जिसमें शुरूआत में 12 सीटों का इस्तेमाल किया जा रहा है। यह केवड़िया और अहमदाबाद के बीच की लगभग 200 किमी की दूरी सड़क मार्ग के करीब 4 घंटे की बजाय मात्र 45 मिनट में तय करेगी। केंद्र सरकार की उड़ान योजना के तहत शुरू होने वाली इस योजना के लिए इसी साल जुलाई में केंद्र, राज्य और एयरपोर्ट अथॉरिटी आॅफ इंडिया के बीच त्रिपक्षीय समझौता हुआ था। स्टेच्यू आॅफ यूनिटी और और अहमदाबाद के साबरमती नदी रिवरफ्रंट दोनो श्री मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट रहे हैं।

आधिकारिक सूचना के अनुसार शुरूआत में दोनो के बीच इस सी प्लेन सेवा के दो दैनिक फेरे रखने की योजना है। किराया एक तरफ से प्रति व्यक्ति 1500 रुपए होगा। पानी और जमीन दोनो से उड़ान भरने में सक्षम इस विमान को कनाडा में बनाया गया है और इसे स्पाइस जेट मालदीव से खरीद कर यहां लायी है। आम विमान की तुलना में काफी नीचे उड़ने वाले इस विमान का वजन 3377 किलो है और यह 5570 किलो वजन उठा सकता है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।