Online education : छोटी उम्र में बड़ी मुश्किलों को हरा रही प्रभजोत

0
prabhjot

माता-पिता के साथ धान लगवाने के साथ-साथ खेत में दे रही है आनलाइन परीक्षा

(Prabhjot online studies)

  • पढ़ाई करने के अलावा खेत व घर में हाथ बंटाती हैं बूटा सिंह की बेटियां

  • सोशल मीडिया पर प्रभजोत की वायरल फोटो की लोगों ने खूब प्रशंसा की

बठिंडा (सच कहूँ/सुखजीत मान)। जिंदगी में कुछ भी सच हो सकता है। यदि आपके पास कुछ करने का जुनून है। सोशल मीडिया पर कल से घूम रही फोटो जिसमें धान की फसल लगाने के लिए पनीरी खोद रहे अपने माता-पिता के पास पानी में ही र्इंट पर बैठकर छात्रा आनलाइन परीक्षा दे रही है। (Prabhjot online studies)दिल तो इस बच्ची का भी करता होगा कि परीक्षा घर में बैठकर दे किंतु अपने माता-पिता की मदद करने की सोच उसे खेत तक खींच लाई।  पानी में र्इंट पर बैठकर आॅनलाइन परीक्षा दे रही यह बच्ची प्रभजोत कौर सरकारी माध्यमिक स्कूल घुमियारा (फरीदकोट) की आठवीं कक्षा की होनहार छात्रा है।

  • बूटा सिंह की होनहार बेटी की यह तस्वीर जहां उसकी मजबूरी को दिखा रही है।
  • वहीं उन विद्यार्थियों को भी सबक है जो संपूर्ण सुविधाओं के बावजदू शिक्षा से कन्नी कतराते हैं।
  • बच्ची के इस आस्था को सोशल मीडिया पर लोगों ने खूब सलाम व सराहा है।
  • भले ही इस बच्ची के गांव की किसी को जानकारी नहीं थी।
  • फिर भी उसका मनोबल बढ़ाने के लिए कई वरिष्ठ लेखकों ने अपनी कविश्री के माध्यम से सराहना की।

आत्मनिर्भर बनाना है सपना:

बच्ची के पिता बूटा सिंह का कहना है कि वह घर की आर्थिक स्थिति कमजोर होने के बावजूद वह अपनी बेटी को शिक्षा से वंचित नहीं रखना चाहता। उसने बताया कि मेरा सपना है कि मेरी बेटियां शिक्षित होकर आत्मनिर्भर बनें। खुद लिखने के शौकीन बूटा सिंह ने बेटियों के अधिकारों की बात करते हुए एक गीत लड़कियों को न मारो लोगो लड़कियों को न मारो लिखा है जिसके माध्यम से वह लोगों को बेटियों को भी बेटों के बराबर आदर सम्मान व शिक्षा मुहैवा करवाने की बात करता है। बूटा सिंह की तीन बेटियां हैं और तीनों खूब मेहनत कर रही हैं।

  • वह घर की जिम्मेदारी के लिए हर काम में भी बराबर सहारा लगाती हैं और पढ़ाई भी करती हैं।
  • बूटा सिंह पहले मैरिज पैलेस में काम करता था।
  • करोना महामारी के कारण काम बंद हो गया तो वह खेत में मेहनत मजदूरी करने लगा।

शिक्षा विभाग के जिला मीडिया संयोजक हरदीप सिद्धू ने बताया कि प्रभजोत कौर स्कूल की विभिन्न सरगर्मियों में अव्वल रहती है। उसकी दो होनहार बहनों में से अकाशदीप कौर सरकारी सैकेंडरी स्कूल मोरांवाली में नौवीं कक्षा और दूसरी बहन संत बाबा राम सिंह कालेज घुद्दूवाला फरीदकोट में बी-काम भाग तीसरा की छात्रा है। उनका भाई लखविन्दर सिंह सरकारी प्राथमिक स्कूल घुमियारा में पाँचवी कक्षा में पढ़ रहा है

बच्चियों के उज्ज्वल भविष्य के लिए कोई कसर नहीं रहने देंगे: अधिकारी

जिला शिक्षा अधिकारी सैकेंडरी (फरीदकोट) परमिन्द्र सिंह बराड़, डिप्टी डीईओ प्रदीप जोडा और स्कूल के इंचार्ज हरवरिन्द्र सिंह सेखों का कहना है कि उन्हें गर्व है कि यह होनहार बेटियां उनके सरकारी स्कूल में पढ़ रही हैं। उन्होंने दावा किया कि इन बच्चियों के उज्ज्वल भविष्य के लिए वह कोई कसर नहीं रहने देंगे।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।