Breaking News

पुलिस ने सुलझाई हत्या की गुत्थी

  • दो महिलाओं सहित तीन आरोपी गिरफ्तार
  • आरोपियों से प्रयोग में लाए हथियार व गाड़ी बरामद

Barnala, Jiwan RamGarh/Jasveer Singh:  बरनाला पुलिस ने बीते दिनों हुई दो हत्याओं की गुत्थी सुलझाने का दावा किया है। इन मामलों में दो महिलाओं सहित तीन व्यक्तियों को गिरफ़्तार करके उनसे वारदात के समय इस्तेमाल किए गए हथियार व एक गाड़ी बरामद की गई है। कॉन्फ्रÞेंस दौरान पत्रकारों को जानकारी देते हुए जिला पुलिस प्रमुख गुरशरनदीप सिंह ग्रेवाल, एसपी(डी) स्वर्ण सिंह खन्ना और डीएसपी.(डी) हर्षपाल सिंह ने बताया कि पहले मामले में 25 दिसंबर को मौड़ नाभा में एक प्लाट में हमीर सिंह पुत्र चन्नण सिंह निवासी मौड़ नाभा का शव मिला था। इस मामले में पुलिस ने मृतक के भतीजे दर्शन सिंह पुत्र लखवीर सिंह के बयानों पर थाना सहिणा में गांव की ही दलजीत कौर पत्नी बलजिन्द्र सिंह और उसके पति बलजिन्दर सिंह पुत्र चन्द सिंह निवासी जानी पत्ती मौड़ नाभा और कुलवंत सिंह पुत्र बलविन्दर सिंह निवासी कांगड़ के खिलाफ मामला दर्ज किया था।
उप कप्तान रछपाल सिंह के नेतृत्व में मुख्य अधिकारी थाना सहिणा सहित पुलिस पार्टी की ओर से की गई जांच दौरान यह सामने आया कि हमीर सिंह के दलजीत कौर के साथ संबंध सही नहीं थे। दलजीत कौर, बलजिन्दर सिंह और कुलवंत सिंह ने मिलकर घर आए हमीर सिंह पर लकड़ के बाले से हमला कर दिया, जिस कारण उसका मनका टूटने से उसकी मौत हो गई। इस उपरांत दोषियों ने उसे गांव में ही एक खाली प्लाट में ले जाकर फैंक दिया। उन्होंने बताया कि दोषियों से वारदात में इस्तेमाल किया गया लकड़ का बाला भी बरामद कर लिया है।
इसी तरह दूसरे मामले में धनजीत सिंह उर्फ धन्ना जो 14 दिसंबर से घर से लापता हो गया था और इस सम्बन्धित थाना तपा में उसकी पत्नी की ओर से अपने पति की गुमशुदगी रिपोर्ट में किसी अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज करवाया था। मृतक का शव 24 दिसंबर को ढिल्लवां की ड्रेन में से मिला था। इस उपरांत पुलिस ने हत्या मामले की गुत्थी सुलझाते हुए मृतक की पत्नी और उसके साथी को गिरफ़्तार किया है। मामले के पृष्टभूमि अनुसार धनजीत सिंह उर्फ धन्ना जो घर से लापता हो गया था, का ढिल्लवां गांव की ड्रेन से शव मिलने पर पुलिस ने गहराई से जांच की तो सामने आया कि मृतक की पत्नी स्वर्णजीत कौर के गुरप्रीत सिंह उर्फ तोता पुत्र दिलबाग सिंह निवासी दबड़ीखालां थाना जैतो (जिला फरीदकोट) के साथ अनैतिक संबंध थे। जिसके चलते मृतक की पत्नी ने अपने साथी गुरप्रीत सिंह के साथ मिलकर 14 दसबंर की रात को धनजीत सिंह को नशीली गोलियां खिला कर बेहोशी की हालत में उसका गला दबा दिया जिससे उसकी मौत हो गई थी। इस उपरांत दोषियों ने धनजीत सिंह के शव को बांध कर गांव ढिल्लवां के नजदीक से गुजरती ड्रेन में फेंक दिया। पुलिस ने गुरप्रीत सिंह उर्फ तोता की ओर से वारदात के समय इस्तेमाल की गई गाड़ी नंबर पीबी 59 – 0107 भी बरामद कर ली। उन्होंने बताया कि इस मामले में पुलिस ने मृतक की पत्नी और उसके साथी को गिरफ़्तार कर लिया है। उन्होंने बताया कि उक्त दोनों मामलों को सुलझाने में एसएचओ तपा विनोद कुमार, एसएचओ सहिणा जगतार सिंह और अमनदीप सिंह सहित पुलिस पार्टी की ओर से अहम रोल निभाया गया है।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top

Lok Sabha Election 2019